वन विलेज-वन फ्रेंड को लेकर नेपाल में सक्रिय हुआ चीन, पाकिस्तान भी कर रहा है मदद

वन विलेज-वन फ्रेंड को लेकर नेपाल में सक्रिय हुआ चीन, पाकिस्तान भी कर रहा है मदद

चीन और पाकिस्तान दोनों ने नेपाल में अपनी गतिविधियां तेजी से बढ़ाई हैं।वन विलेज वन फ्रेंड की योजना के तहत नेपाल के हर गांव में से एक व्यक्ति चुना जाएगा और फिर उसे ट्रेन्ड किया जाएगा। उसे बताया जाएगा कि नेपाल में चीन का क्या-क्या योगदान है। वह फिर और लोगों तक इस बात को पहुंचायेंगे।

नई दिल्ली। चीन एक तरफ तो पाकिस्तान को लगातार सैन्य ताकत बढ़ाने में मदद कर रहा है, और दूसरी ओर चीन और पाकिस्तान दोनों ने नेपाल में अपनी गतिविधियां तेजी से बढ़ाई हैं। इंटेलिजेंस एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक चीन ने नेपाल में चीन विरोधी सेंटिमेंट्स को काउंटर करने के लिए 'वन विलेज वन फ्रेंड' अभियान शुरू करने जा रहा है। इसके साथ ही पाकिस्तानी आईएसआई अधिकारियों ने वहां अपनी सक्रियता बढ़ाई है। इंटेलिजेंस एजेंसी सूत्रों के मुताबिक नेपाल- चीन मैत्री समाज ने वन विलेज वन फ्रेंड अभियान चलाने की तैयारीयों को जोर दिया है। नेपाल-चीन मैत्री समाज  इस संगठन को चीन की एंबेसी फंड करती है।

वन विलेज वन फ्रेंड की योजना के तहत नेपाल के हर गांव में से एक व्यक्ति चुना जाएगा और फिर उसे ट्रेन्ड किया जाएगा। उसे बताया जाएगा कि नेपाल में चीन का क्या क्या योगदान है। वह फिर और लोगों तक इस बात को पहुंचाएगा। इंटेलिजेंस एजेंसी सूत्रों के मुताबिक ये चीन विरोधी सेंटिमेंट्स को काउंटर कर चीन के पक्ष में माहौल बनाने की एक नई कोशिश है।

इंटेलिजेंस एजेंसी सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी दूतावास में तैनात आईएसआई के अधिकारी नेपाल में मदरसों और उनके कार्यक्रमों में नियमित दौरे कर रहे हैं। इंटेलिजेंस एजेंसी के अधिकारियों का मानना  यह भी है कि इस तरह के दौरे से वहां का मुस्लिम समुदाय मन पर गहरा असर पड़ सकता है साथ ही वहां स्लीपर सेल छुपकर किसी और नाम से रह रहे हैं, इसकी भी बात इंटेलिजेंस एजेंसी की ओर से की जा रही है।