चीन ने अपनी इकोनॉमी के अनुमान को 2.1 प्रतिशत बढ़ाया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2019   15:25
चीन ने अपनी इकोनॉमी के अनुमान को 2.1 प्रतिशत बढ़ाया

चालू साल की जुलाई-सितंबर की तिमाही में चीन की वृद्धि दर छह प्रतिशत रही है। यह 1992 की सबसे धीमी वृद्धि है। अमेरिका के साथ व्यापार युद्ध के चलते चीन के विनिर्माण क्षेत्र की मांग प्रभावित हुई है।

बीजिंग। चीन ने अपनी अर्थव्यवस्था के अनुमान को संशोधित करते हुए 2.1 प्रतिशत बढ़ा दिया है। गणना के नतीजों के बाद चीन ने 2018 के लिए अपने सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के अनुमान को संशोधित कर 91,930 अरब युआन या 13,100 अरब डॉलर कर दिया है। राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो ने शुक्रवार को इस संशोधन के बारे में जानकारी दी। इससे चीन के कम्युनिस्ट नेताओं के 2010 से 2020 के दौरान देश की जीडीपी के आकार को दोगुना करने के लक्ष्य को हासिल करने की संभावना बढ़ गई है। 

इसे भी पढ़ें: शांति और समृद्धि के लिए भारत के साथ मिलकर काम करेंगे: प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे

सरकार की योजना दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के जीडीपी वृद्धि के संशोधित अनुमान को भी जारी करने की है। हालांकि, सरकार की ओर यह नहीं बताया गया है कि इसे कब जारी किया जाएगा। पिछले अनुमान में 2018 में देश की जीडीपी 90,030 अरब युआन या 12,800 अरब डॉलर आंका गया था। यह 2018 में अमेरिका के 20,500 अरब डॉलर के जीडीपी से काफी पीछे है। हालांकि, 2018 में अमेरिका की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 2.6 प्रतिशत रही थी जो चीन की तुलना में काफी कम है। 

इसे भी पढ़ें: चीन ने भारत-जापान से पाइरिडिन के आयात पर डंपिंगरोधी शुल्क हटाया, जानें क्या है पाइरिडिन?

चालू साल की जुलाई-सितंबर की तिमाही में चीन की वृद्धि दर छह प्रतिशत रही है। यह 1992 की सबसे धीमी वृद्धि है। अमेरिका के साथ व्यापार युद्ध के चलते चीन के विनिर्माण क्षेत्र की मांग प्रभावित हुई है। चीन की तेज वृद्धि और 1.4 अरब की आबादी के साथ माना जा रहा है कि वह जल्द अमेरिका को पीछे छोड़कर दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...