कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई चीन की बड़ी रणनीतिक उपलब्धि: शी चिनफिंग

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 30, 2020   15:46
कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई चीन की बड़ी रणनीतिक उपलब्धि: शी चिनफिंग

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई चीन की बड़ी रणनीतिक उपलब्धि साबित हुई है।उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे रूस की सीमा से लगते हीलोंगजियांग प्रांत में कोरोना वायरस के मामलों को रोकने के लिए प्रयास करें जहां रूसी शहरों से लौट रहे चीनी लोग बड़ी संख्या में संक्रमित पाए गए हैं।

बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को चीन की एक बड़ी रणनीतिक उपलब्धि करार दिया है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बृहस्पतिवार को कहा कि बुधवार को देश में कोरोना वायरस के केवल चार नए मामले सामने आए जिससे महामारी के रोगियों की कुल संख्या 82,862 हो गई है। मौत का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। कोरोना वायरस चीन में 4,633 लोगों की जान ले चुका है। चिनफिंग ने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) की उच्चाधिकार प्राप्त केंद्रीय समिति की बैठक में कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के चीन के अभूतपूर्व प्रयासों के चलते हुबेई प्रांत और इसकी राजधानी वुहान की रक्षा की लड़ाई के निर्णायक परिणाम आए।

इसे भी पढ़ें: ट्रंप के निशाने पर WHO, विश्व स्वास्थ्य संगठन को बताया चीन के हाथों की कठपुतली

सरकार संचालित शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने चिनफिंग के हवाले से कहा कि महामारी के खिलाफ राष्ट्रव्यापी लड़ाई से बड़ी रणनीतिक उपलब्धि हासिल हुई है। चिनफिंग ने कहा कि वुहान सहित हुबेई को सामुदायिक स्तर के महामारी नियंत्रण कदमों को मजबूत करने का काम जारी रखना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे रूस की सीमा से लगते हीलोंगजियांग प्रांत में कोरोना वायरस के मामलों को रोकने के लिए प्रयास करें जहां रूसी शहरों से लौट रहे चीनी लोग बड़ी संख्या में संक्रमित पाए गए हैं। खबर में कहा गया कि बैठक में काम और कारोबार, खासकर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों को फिर से शुरू करने तथा ऑटो विनिर्माण, इलेक्ट्रॉनिक सूचना और जैव औषधि क्षेत्र को मजबूती देने की आवश्यकता पर जोर दिया गया।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी कंपनी का दावा- कोरोना वायरस के खिलाफ प्रभावी साबित हुई उसकी ये दवा

चिनफिंग ने कहा कि कोविड-19 महामारी विदेशों में अपना कहर जारी रखे हुए हैं और वहां से संक्रमण आने तथा देश में बीमारी के फिर से उभार को रोकने पर जोर दिए जाने की आवश्यकता है। खबर में कहा गया कि चिनफिंग ने कड़े प्रयासों से अर्जित उपलब्धियों को बरकरार रखने के लिए महामारी नियंत्रण कदमों में कोई ढिलाई न बरतने की आवश्यकता पर बल दिया। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार बुधवार को सामने आए कोविड-19 के चार नए मामले विदेशों से आए लोगों से जुड़े हैं। इसने कहा कि विदेशों से आए लोगों से जुड़े महामारी के मामलों की संख्या बढ़कर 1,664 हो गई है। इनमें से 13 लोगों की हालत गंभीर है। सीपीसी की केंद्रीय समिति की बैठक ऐसे समय हुई है जब कोरोना वायरस की उत्पत्ति के स्रोत का पता लगाने के लिए अंतरराष्ट्रीय जांच का दबाव बढ़ रहा है और ये आरोप भी लग रहे हैं कि नया कोरोना वायरस वुहान विषाणु विज्ञान संस्थान से फैला है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।