रूस-यूक्रेन युद्ध शुरु होने के शीघ्र बाद हुए साइबर हमले से यूरोप के हजारों लोग प्रभावित हुए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 31, 2022   07:03
रूस-यूक्रेन युद्ध शुरु होने के शीघ्र बाद हुए साइबर हमले से यूरोप के हजारों लोग प्रभावित हुए

अमेरिका की कंपनी वायासेट ने इस बात का भी खुलासा किया कि किस तरह साइबर हमले को अंजाम दिया गया, जो अब तक किसी भी युद्ध के दौरान किया गया सबसे बड़ा साइबर हमला है। कंपनी ने इस हमले के व्यापक प्रभाव के बारे में भी जानकारी साझा की है।

मॉस्को|  यूक्रेन पर रूसी हमला शुरू होने के शीघ्र बाद यूक्रेनी सरकार और सैन्य एजेंसियों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सेटेलाइट नेटवर्क पर हुए साइबर हमले के कारण यूरोपीय देशों के हजारों लोगों के ब्रॉडबैंड इंटरनेट कनेक्शन प्रभावित हुए थे। उपग्रह (सेटेलाइट) के स्वामित्व वाली कंपनी ने बुधवार को यह खुलासा किया।

अमेरिका की कंपनी वायासेट ने इस बात का भी खुलासा किया कि किस तरह साइबर हमले को अंजाम दिया गया, जो अब तक किसी भी युद्ध के दौरान किया गया सबसे बड़ा साइबर हमला है। कंपनी ने इस हमले के व्यापक प्रभाव के बारे में भी जानकारी साझा की है।

कंपनी के मुताबिक, इस हमले के कारण पोलैंड से लेकर फ्रांसतक के इंटरनेट उपभोक्ता प्रभावित हुए। हालांकि, कंपनी ने अपने बयान में इस बात की जानकारी साझा नहीं की कि इस हमले के लिए कौन जिम्मेदार था।

जबकि, यूक्रेन के अधिकारियों ने रूसी हैकरों पर साइबर हमले को अंजाम देने का आरोप लगाया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।