पाकिस्तान के कराची यूनिवर्सिटी में हुआ ब्लास्ट, 4 की मौत, हमलावरों के निशाने पर थे चीनी नागरिक

पाकिस्तान के कराची यूनिवर्सिटी में हुआ ब्लास्ट, 4 की मौत, हमलावरों के निशाने पर थे चीनी नागरिक
Creative Common

खबर है कि विश्वविद्यालय परिसर के अंदर एक व्यावसायिक यात्री वैन में विस्फोट हो गया। मारे गए लोगों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। शुरुआती खबरों के मुताबिक यूनिवर्सिटी में कन्फ्यूशियस इंस्टीट्यूट के पास एक वैन में धमाका हुआ है।

पाकिस्तान के कराची में एक बड़ा धमाका हुआ है। धमाके में कई लोगों के मारे जाने की आशंका है। पाकिस्तानी अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने मंगलवार को कराची विश्वविद्यालय में हुए एक विस्फोट में कम से कम चार लोगों के मारे जाने की आशंका जताई है। खबर है कि विश्वविद्यालय परिसर के अंदर एक व्यावसायिक यात्री वैन में विस्फोट हो गया। मारे गए लोगों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। शुरुआती खबरों के मुताबिक यूनिवर्सिटी में कन्फ्यूशियस इंस्टीट्यूट के पास एक वैन में धमाका हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: चीन के BRI की काट तैयार, भारत के TDC फंड से उड़ जाएंगे ड्रैगन के होश

स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के अनुसार वैन दो विदेशी नागरिकों सहित लेक्चरर  को ले जा रही थी, जो विश्वविद्यालय में पढ़ाने के बाद लौट रहे थे। इस बीच, पुलिस सूत्रों ने कहा कि वैन में सात से आठ लोग सवार थे, हालांकि, हताहतों की सही संख्या अभी तक सामने नहीं आई है। कराची के पुलिस प्रमुख गुलाम नबी मेमन ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि यह एक आत्मघाती हमलावर हो सकता है। उन्होंने कहा कि साइट से क्लोज-सर्किट टेलीविजन फुटेज में एक व्यक्ति को सिर से पैर तक महिला बुर्का पहने हुए वैन तक जाते हुए दिखाया गया, जिसके बाद एक तात्कालिक विस्फोट हुआ।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान सरकार से अमेरिकी शख्सियतों की अपील, भारत के साथ संबंधों में सुधार करें

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार बलूच लिबरेशन आर्मी (बीएलए) ने हमले की जिम्मेदारी ली है। दावा किया गया है कि एक महिला आत्मघाती हमलावर शैरी बलोच उर्फ ​​ब्रम्श ने हमले को अंजाम दिया। जुलाई 2021 में उत्तर-पश्चिम के दसू में एक बस में बमबारी के बाद से पाकिस्तान में चीनी नागरिकों पर यह पहला बड़ा हमला है, जिसमें नौ चीनी नागरिक मारे गए थे।