भारत -वियतनाम रक्षा और सुरक्षा, परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग मजबूत करेंगे

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 12 2019 6:25PM
भारत -वियतनाम रक्षा और सुरक्षा, परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग मजबूत करेंगे
Image Source: Google

उपराष्ट्रपति ने इस यात्रा के दौरान अपने वियतनामी समकक्ष दांग ती एन तिह्न, प्रधानमंत्री एन शुआन फुक और नेशनल असेंबली के अध्यक्ष एन ती किम नगान के साथ वार्ता की।

हनोई। भारत और वियतनाम रक्षा, सुरक्षा, परमाणु ऊर्जा के शांतिपूर्ण उपयोग और बाहरी अंतरिक्ष, तेल एवं गैस तथा नवीकरण ऊर्जा के क्षेत्रों में अपने संबंध और भी मजबूत करने के लिए सहमत हुए हैं।उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू इस दक्षिण पूर्व एशियाई देश की चार दिवसीय यात्रा पर आए थे और रविवार को उनकी यात्रा संपन्न हो गई। उपराष्ट्रपति ने इस यात्रा के दौरान अपने वियतनामी समकक्ष दांग ती एन तिह्न, प्रधानमंत्री एन शुआन फुक और नेशनल असेंबली के अध्यक्ष एन ती किम नगान के साथ वार्ता की। 

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: किम जोंग-नाम की हत्या के मामले में आरोपी महिला की रिहाई की अपील खारिज

विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा, ‘‘उपराष्ट्रपति की वियतनामी वार्ताकारों से व्यापक एवं सार्थक वार्ता हुई, जिसमें द्विपक्षीय एवं बहुपक्षीय सहयोग के सारे मुद्दे शामिल थे।’’बयान में कहा गया है कि दोनों देश रक्षा एवं सुरक्षा, परमाणु ऊर्जा एवं बाहरी अंतरिक्ष के शांतिपूर्ण उपयोग, तेल एवं गैस, नवीकरणीय ऊर्जा, कृषि तथा नवोन्मेष आधारित क्षेत्रों में सहयोग और भी मजबूत करने पर सहमत हुए। वियतनाम, भारत का एक अहम व्यापारिक साझेदार है और दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार पिछले साल करीब 14 अरब डॉलर था, जबकि तीन साल पहले यह 7. 8 अरब डॉलर था। 
उप राष्ट्रपति और वियतनाम के प्रधानमंत्री ने व्यापार एवं निवेश बढ़ाने के प्रति प्रतिबद्धता जताई और पर्यटन, व्यापार एवं लोगों के बीच संपर्क बढ़ाने के लिए सीधी उड़ानों को बढ़ावा देने पर सहमत हुए। बयान के मुताबिक दोनों देशों ने राष्ट्रीय संप्रभुता और अंतरराष्ट्रीय कानून के आधार पर हिंद - प्रशांत क्षेत्र को शांतिपूर्ण और समृद्ध बनाने की अहमियत दोहराई।

इसे भी पढ़ें: किम जोंग उन ने वियतनाम यात्रा के दौरान हो ची मिन्ह को श्रद्धांजलि दी



वहीं, वियतनाम के नेताओं ने खासतौर पर छात्रवृत्ति और प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भारत की लंबे समय से चली आ रही विकास साझेदारी समझौते की सराहना की।नायडू ने अपने वियनतामी समकक्ष को भारत आने का भी न्यौता दिया। नायडू ने वियतनाम के हनाम प्रांत में ताम चुक पैगोडा में वेशाख के 16 वें संयुक्त राष्ट्र दिवस को भी संबोधित किया। उल्लेखनीय है कि वेशाख को बुद्ध जयंती के रूप में मनाया जाता है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप