दानिश सिद्दीकी की मौत पर खुलासा, भारतीय पहचान जानने के बाद तालिबान ने पहले सिर पर हमला किया, फिर गोलियों से छलनी किया

दानिश सिद्दीकी की मौत पर खुलासा, भारतीय पहचान जानने के बाद तालिबान ने पहले सिर पर हमला किया, फिर गोलियों से छलनी किया

अमेरिकी मैगजीन की ओर से कहा गया है कि तालिबान ने पहचान के बाद ये जानते हुए कि वो भारतीय है, बड़ी बेरहमी से दानिश सिद्दीकी को मौत के घाट उतार दिया था।

भारतीय पत्रकार दानिश सिद्दीकी की मौत पर एक बड़ा खुलासा हुआ है। अमेरिकी मैगजीन ने दानिश की हत्या को लेकर दावा करते हुए कहा कि क्रॉस फायर या सुरक्षा चूक में दानिश की जान नहीं गई थी। अमेरिकी मैगजीन की ओर से कहा गया है कि तालिबान ने पहचान के बाद ये जानते हुए कि वो भारतीय है, बड़ी बेरहमी से दानिश सिद्दीकी को मौत के घाट उतार दिया था। 

अमेरिकी मैगजीन के दावे

अमेरिकी मैगजीन वॉशिंगटन एग्जैमिनर ने दावा किया है कि पत्रकार दानिश सिद्धीकी की बेरहमी से हत्या की गई है। यूएस की मैगजीन की ओर से घायल दानिश को मस्जिद में पकड़ने का दावा किया गया है। भारतीय पहचान जानने के बाद दानिश की हत्या की गई। एग्जैमिनर ने तालिबान के क्रूर चेहरे को उजागर करते हुए इस बात का भी खुलासा किया कि दानिश के सिर पर पहले हमला किया गया और फिर उसे गोलियों से छलनी कर दिया गया। 

तालिबान का दावा

दानिश दुश्मन की टैंक में सवार थे और वो अपनी मौत के लिए खुद ही जिम्मेदार हैं।  इसके साथ ही तालिबान ने माफी मांगने से इनकार कर दिया था। तालिबान का कहना है कि दानिश की मौत किसकी गोली से हुई, इसका अंदाजा उसे नहीं है। तालिबान का कहना है कि उसने दानिश के शव के साथ कोई बर्बरता नहीं की है।