Chinese New Year 2022: क्या होता है लूनर न्यू ईयर, क्या है इसका इतिहास और महत्व

Lunar New Year
अभिनय आकाश । Jan 31, 2022 4:07PM
लूनर न्यू ईयर बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है और इस वर्ष समारोह के मुख्य दिन 31 जनवरी (नव वर्ष की पूर्व संध्या) और 1 फरवरी होंगे। लूनर न्यू ईयर प्रत्येक वर्ष एक ही तिथि को नहीं पड़ता है और चंद्रमा के चक्रों के अनुसार मनाया जाता है।

लूनर न्यू ईयर को दुनिया के लगभग दो अरब लोग मनाते हैं। जिसे चीनी नव वर्ष और वसंत महोत्सव के रूप में भी जाना जाता है, यह दुनिया भर में चीनी समुदायों द्वारा मनाया जाता है, जिसमें परंपराएं दूसरे से थोड़ी भिन्न होती हैं। उत्सव की शुरुआत शीतकालीन संक्रांति के बाद दूसरे चंद्रमा के उदय के साथ होती है। चीन में सोमवार यानी 31 जनवरी से धूमधाम सेस लूनर न्यू ईयर मनाया जा रहा है। दुनियाभर के बड़े देशों के नेताओं ने इस दिन की बधाई दी है। ऐसे में आज आपको बताते हैं कि आखिर क्या है लूनर न्यू ईयर 2022, इसका इतिहास क्या है और क्या मायने रखता है।

लूनर न्यू ईयर  2022 की तिथि

लूनर न्यू ईयर  बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है और इस वर्ष समारोह के मुख्य दिन 31 जनवरी (नव वर्ष की पूर्व संध्या) और 1 फरवरी होंगे। लूनर न्यू ईयर  प्रत्येक वर्ष एक ही तिथि को नहीं पड़ता है और चंद्रमा के चक्रों के अनुसार मनाया जाता है। यह आमतौर पर ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार प्रत्येक वर्ष 20 जनवरी से 21 फरवरी के बीच पड़ता है। प्रत्येक वर्ष राशि चक्र के 12 जानवरों में से एक के साथ जुड़ा हुआ है - चूहा, बैल, बाघ, खरगोश, अजगर, सांप, घोड़ा, बकरी, बंदर, मुर्गा, कुत्ता और सुअर। वर्ष 2022 बाघ का वर्ष है, जबकि 2021 बैल का वर्ष था।

इसे भी पढ़ें: चीन का बड़ा बयान, UN को म्यांमार को गृह युद्ध से बचाने की कोशिश करनी चाहिए

समारोह

लोग अपने घरों को साफ करते हैं और पिछले साल के दुखों और दुर्भाग्य को पीछे छोड़ते हुए भाग्य और समृद्धि की कामना करते हैं। चीनी लोगों के लिए लाल रंग का बहुत महत्व है और इस दिन घरों को चमकीले लाल बैनरों से सजाया जाता है और बच्चों को लाल लिफाफे में पैसे दिए जाते हैं। लोग उपहारों का आदान-प्रदान करते हैं, भव्य दावतों की मेजबानी करते हैं। अपने नए साल के जश्न को ढेर सारी आतिशबाजी, पटाखों, नाचते हुए ड्रेगन और शेरों के साथ चिह्नित करते हैं। यह उत्सव दो सप्ताह तक चलता है और इस वर्ष यह 15 फरवरी को पूर्णिमा के दिन लालटेन उत्सव के साथ समाप्त होगा।

इतिहास और महत्व

चीनी नव वर्ष 14वीं शताब्दी ईसा पूर्व का बताया जाता है। किंवदंतियां हैं कि प्राचीन काल में नियान नामक एक राक्षस था जिसने लोगों पर हमला किया और बहुत आतंक फैलाया। हालाँकि वह लाल रंग, पटाखों की आवाज़ और आतिशबाजी की दृष्टि से भयभीत था। लोगों ने उसे डराने और भगाने के लिए इन चीजों का इस्तेमाल किया। माना जाता है कि उस दिन से लोग चीनी नव वर्ष मनाते हैं।

अन्य देश जो लूनर न्यू ईयर मनाते हैं

पूर्वी एशियाई देशों ने भी इस दिन को धूमधाम से मनाया। वियतनाम, दक्षिण कोरिया, उत्तर कोरिया और मंगोलिया जैसे देश इसे एक ही दिन अलग-अलग नामों और परंपराओं के साथ मनाते हैं।

अन्य न्यूज़