न्यूजीलैंड हमले के बाद लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग के नियमों को सख्त बना रहा है फेसबुक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 30, 2019   14:42
न्यूजीलैंड हमले के बाद लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग के नियमों को सख्त बना रहा है फेसबुक

चीफ ऑपरेटिंग अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग ने एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि कई लोगों ने सही सवाल उठाया कि फेसबुक जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल हमले की भयानक वीडियो का प्रसार करने में कैसे किया गया।

सैन फ्रांसिस्को। फेसबुक ने शुक्रवार को कहा कि वह न्यूजीलैंड में मस्जिदों पर हुए हमले के प्रसारण के लिए उसकी लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग सेवा का इस्तेमाल किए जाने के मद्देनजर इस सेवा के नियमों को कड़ा बना रहा है। एक श्वेतवादी हमलावर ने क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों पर हमला किया था जिसमें 50 लोगों की मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें: मस्जिद हमलों के पीड़ितों को श्रद्धांजलि देने न्यूजीलैंड जाएंगे प्रिंस विलियम

चीफ ऑपरेटिंग अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग ने एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि कई लोगों ने सही सवाल उठाया कि फेसबुक जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल हमले की भयानक वीडियो का प्रसार करने में कैसे किया गया।

इसे भी पढ़ें: मस्जिद पीड़ितों के लिए राष्ट्रीय स्मृति कार्यक्रम का आयोजन करेगा न्यूजीलैंड

उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवादी हमले के मद्देनजर हम तीन कदम उठा रहे हैं : फेसबुक लाइव इस्तेमाल करने के नियमों को कड़ा बना रहे हैं, हमारे प्लेटफॉर्म पर नफरत फैलाने से रोकने के लिए और कदम उठा रहे हैं तथा न्यूजीलैंड समुदाय का समर्थन कर रहे हैं।’’ सैंडबर्ग के अनुसार फेसबुक अपने लाइवस्ट्रीमिंग के मानदंडों का पूर्व में उल्लंघन कर चुके लोगों को इस सेवा के इस्तेमाल से रोकने पर विचार कर रहा है। सोशल नेटवर्क ऐसे सॉफ्टवेयर में भी निवेश कर रहा है जो हिंसक वीडियो या तस्वीरों के संपादित संस्करण को साझा करने या री-पोस्ट करने से रोकने के लिए तुरंत उनकी पहचान कर सकें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...