पाक प्रधानमंत्री ने चीनी नागरिकों की सुरक्षा बढ़ाने का आश्वासन दिया

Shahbaz Sharif
Google Creative Commons.
पिछले महीने कराची विश्वविद्यालय में हुए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए शरीफ ने घटना की गहन जांच करने और अपराधियों को न्याय दिलाने के लिए पाकिस्तान के दृढ़ संकल्प को दोहराया। इस हमले में तीन चीनी शोधार्थियों की जान चली गई थी।

) इस्लामाबाद, 16 मई पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने सोमवार को चीन को आश्वासन दिया कि उनके नेतृत्व वाली सरकार देश में चीनी नागरिकों की रक्षा और सुरक्षा बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने और 60 अरब अमेरिकी डॉलर वाली सीपीईसी परियोजनाओं में तेजी लाने के लिए ‘‘दृढ़ संकल्पित’’ है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग के साथ टेलीफोन पर हुई ‘‘विस्तृत बातचीत’’ के दौरान शरीफ ने विशेष आर्थिक क्षेत्रों (एसईजेड) को जल्द से जल्द पूरी तरह से चालू करने के लिए दोनों पक्षों के एक साथ काम करने और दोनों देशों की संबंधित एजेंसियों के बीच सहयोग बढ़ाने की आवश्यकता को रेखांकित किया।

शहबाज ने अपनी सरकार के ‘‘परिवर्तनकारी चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) के तहत मौजूदा और साथ ही नयी परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने का दृढ़ संकल्प दोहराया, जिसने पाकिस्तान के सामाजिक-आर्थिक और उच्च- गुणवत्ता वाले विकास में अत्यधिक योगदान दिया है।’’ महत्वाकांक्षी 60 अरब डॉलर का सीपीईसी चीन के उत्तर पश्चिमी शिनजियांग उइगर स्वायत्त क्षेत्र और पश्चिमी पाकिस्तान प्रांत बलूचिस्तान में ग्वादर बंदरगाह को जोड़ने वाली बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का 3,000 किलोमीटर लंबा मार्ग है। सीपीईसी को लेकर भारत ने चीन के समक्ष विरोध जताया है क्योंकि इसे पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के जरिए बनाया जा रहा है।

पिछले महीने कराची विश्वविद्यालय में हुए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए शरीफ ने घटना की गहन जांच करने और अपराधियों को न्याय दिलाने के लिए पाकिस्तान के दृढ़ संकल्प को दोहराया। इस हमले में तीन चीनी शोधार्थियों की जान चली गई थी।

बयान में कहा गया, ‘‘उन्होंने दोहराया कि पाकिस्तान देश में आर्थिक परियोजनाओं और संस्थानों में काम कर रहे सभी चीनी नागरिकों की रक्षा, सुरक्षा को अत्यंत महत्व देता है।

उन्होंने प्रधानमंत्री ली को आश्वासन दिया कि उनकी सरकार चीनी नागरिकों की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने को लेकर दृढ़ है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़