समझौता ट्रेन विस्फोट के आरोपियों के बरी होने पर पाकिस्तानियों ने जताया विरोध

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 26, 2019   14:58
समझौता ट्रेन विस्फोट के आरोपियों के बरी होने पर पाकिस्तानियों ने जताया विरोध

पिछले सप्ताह एक भारतीय अदालत ने अपने फैसले में कहा था कि जांचकर्ता आरोपियों को दोषी साबित नहीं कर पाये। 2007 में नयी दिल्ली से अटारी जा रही समझौता एक्सप्रेस की दो कोच में विस्फोट के बाद आग लग गयी थी।

लाहौर। समझौता एक्सप्रेस ट्रेन में 12 साल पहले हुए विस्फोट मामले में भारतीय अदालत द्वारा चार आरोपियों को बरी किये जाने के फैसले का इस विस्फोट में मारे गये पाकिस्तानी नागरिकों के परिजन विरोध कर रहे हैं। इस विस्फोट में 68 यात्री मारे गये थे। सोमवार को पूर्वी लाहौर शहर में एक रैली में ये परिजन ‘‘हमें इंसाफ चाहिए’’ के नारे लगा रहे थे और प्रधानमंत्री इमरान खान से इस मामले को अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत ले जाने की मांग कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: समझौता एक्सप्रेस मामला: NIA अदालत ने अपना फैसला टाला

पिछले सप्ताह एक भारतीय अदालत ने अपने फैसले में कहा था कि जांचकर्ता आरोपियों को दोषी साबित नहीं कर पाये। 2007 में नयी दिल्ली से अटारी जा रही समझौता एक्सप्रेस की दो कोच में विस्फोट के बाद आग लग गयी थी। मरने वाले लोगों में अधिकतर पाकिस्तानी नागरिक थे। अटारी पाकिस्तान सीमा से पहले पड़ने वाला अंतिम स्टेशन है।

इसे भी पढ़ें: भारत-पाकिस्तान जाने वाली समझौता एक्सप्रेस ट्रेन 3 मार्च से चलेगी





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...