पुतिन ने 3 लाख सैनिकों को जंग के लिए तैयार होने के दिए ऑर्डर, कहा- हल्के में ना लें, खतरा मंडराया तो एटमी हमला भी कर सकते हैं

Putin
Creative Common
अभिनय आकाश । Sep 21, 2022 1:28PM
पुतिन ने पश्चिम को ये भी चेतावनी दी कि यह कोई झांसा नहीं है कि रूस अपने क्षेत्र की रक्षा के लिए सभी साधनों का उपयोग करेगा। रूस के रक्षा मंत्री ने कहा कि देश में 3,00,000 रिजर्व सैनिकों को तैनात किया जाएगा।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन के खिलाफ अपने युद्ध में बड़े झटके के बाद रूस में आंशिक सैन्य लामबंदी की घोषणा कर दी है। उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिमी देश रूस को तबाह व कमजोर करने की साजिश रच रहे हैं। इन देशों ने हद पार कर दी है। इसके साथ ही पुतिन ने पश्चिमी देशों को चेतावनी भी दी। पुतिन ने पश्चिम को ये भी चेतावनी दी कि यह कोई झांसा नहीं है कि रूस अपने क्षेत्र की रक्षा के लिए सभी साधनों का उपयोग करेगा।  रूस के रक्षा मंत्री ने कहा कि देश में 3,00,000 रिजर्व सैनिकों को तैनात किया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: फ्रांस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर की तारीफ, समरकंद के हिंद संदेश को बताया पूरी तरह सही

उन्होंने परमाणु खतरे की भी निंदा करते हुए कहा कि रूस के पास "पश्चिमी खतरों" का जवाब देने के लिए "बहुत सारे हथियार" हैं। अगर हमारे देश की क्षेत्रीय अखंडता को खतरा है, तो हम अपने लोगों की रक्षा के लिए सभी उपलब्ध साधनों का उपयोग कर सकते हैं। पूर्वी और दक्षिणी यूक्रेन में अलगाववादियों द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों में रूस के अभिन्न अंग बनने पर जनमत संग्रह कराने की योजना की घोषणा के एक दिन बाद रूसी प्रधानमंत्री का राष्ट्र के नाम संबोधन आया है।

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन के इज़ीयुम शहर पर रूस के कब्जे के बाद लोगों के पास कुछ नहीं बचा

पुतिन ने अपने संबोधन के दौरान यूक्रेन में सेना के मौजूदा हालात और वहां के स्थिति के बारे में देश की जनता को रूबरू कराया। पुतिन ने पश्चिमी देशों पर ‘‘परमाणु ब्लैकमेलिंग’’ करने का आरोप लगाया, साथ ही ‘‘रूस के खिलाफ परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की संभावना संबंधी नाटो देशों के शीर्ष प्रतिनिधियों के बयानों ’’ का भी जिक्र किया। 

अन्य न्यूज़