सबसे घातक, महाविनाशक रूस का पराक्रमी हथियार 'Sarmat' लॉन्च, पुतिन बोले- दुश्मनों को दो बार सोचना होगा

Sarmat
creative common
अभिनय आकाश । Apr 22, 2022 1:12PM
रूस ने सरमत अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मिसाइल की ताकत से दुनिया को रूबरू करवाते हुए कहा कि सरमत का वजन 2 हजार टन से ज्यादा है और ये दुनिया के किसी भी कोने में हमला करने में सक्षम है।

यूक्रेन के साथ चल रही जंग के बीच रूस ने नाटो और खासकर अमेरिका को अपनी ताकत दिखाई है। रूस ने ऐसा महाविनाश हथियार तैयार किया है जो रूस के दुश्मन को पलक झपकते ही तबाह कर देगा। एक ऐसा मिसाइल जो दुनिया के किसी भी हिस्से में तबाही का मंजर ला सकता है। रूस ने इस मिसाइल का परीक्षण किया। रूस के इस महाविनाश हथियार का नाम सरमत है। रूस ने न केवल मिसाइल का सफल परीक्षण किया बल्कि पुतिन ने परीक्षण के बाद दुश्मनों को धमकी भी दी। रूस ने सरमत अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। माना जा रहा है कि मिसाइल दुनिया में सबसे ज्यादा खतरनाक है। हालांकि अमेरिका ने रूसी मिसाइल टेस्ट को रूटीन बताते हुए कहा कि यह खतरा नहीं है। लेकिन पुतिन ने तो साफ-साफ चेतावनी देते हुए कहा कि अब दुश्मनों को दो बार सोचना होगा।

इसे भी पढ़ें: रूस के साथ आर्थिक संबंध स्थिर रखने की कोशिश: विदेश मंत्रालय

पल भर में दुश्मनों को खत्म करने की ताकत

दुनिया के किसी भी टारगेट को हिट कर सकती है। इस मिसाइल में दुनिया के किसी भी शहर का नामोनिशान मिटाने की ताकत है । इस मिसाइल की रेंज 18000 किलोमीटर है और ये आईसीबीएम अपने साथ 10,000 से ज्यादा न्यूक्लियर वारहेड लेकर जा सकती है। यह न्यूक्लियर वारहेड्स 10  जगह पर गिराए जा सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार इस मिसाइल को बनाने की शुरुआत साल 2000 में ही शुरू कर दी गई थी। इस मिसाइल को खास इस तरह से डिजाइन किया गया है कि ये एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम को भी धोखा दे सकता है।

इसे भी पढ़ें: रूस ने कमला हैरिस, मार्क जुकरबर्ग के आने पर रोक लगाई

दुश्मन सोचने पर हो जाएंगे मजबूर: पुतिन

मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मिसाइल की ताकत से दुनिया को रूबरू करवाते हुए कहा कि सरमत का वजन 2 हजार टन से ज्यादा है और ये दुनिया के किसी भी कोने में हमला करने में सक्षम है। इसके साथ ही पुतिन ने कहा कि सरमत से रूसी आर्म्ड फोर्स को ताकत मिलेगी। ये रूस को बाहरी खरतों से बचाएगा और हमारे देश को धमकी देने वाले लोगों को दो बार सोचने पर मजबूर कर देगा।  

अन्य न्यूज़