निहत्थे नागरिक की हत्या का दोषी पाया गया 21 वर्षीय रूसी सैनिक, कहा- मैं जानता हूं मुझे माफ नहीं कर पाएंगे...

Russian Ukraine conflict
प्रतिरूप फोटो
Prabhasakshi
रूसी सैनिक ने अदालत में 62 वर्षीय नागरिक की पत्नी से कहा कि मैं जानता हूं आप मुझे माफ नहीं कर पाएंगे, इसके बाद भी मैं लोगों से माफी मांगता हूं। रूसी सैनिक को जब अदालत में लाया गया तो 62 वर्षीय नागरिक की पत्नी अपने आँखों से आंसू पोंछकर बैठ गई।

कीव। यूक्रेन में युद्ध अपराधों के पहले मुकदमे में 21 वर्षीय रूसी सैनिक को एक निहत्थे नागरिक की हत्या का दोषी पाया गया है। जिसके बाद रूसी सैनिक ने कीव की अदालत में माफी मांगी। रिपोर्ट्स के मुताबिर, रूसी सैनिक वादिम शिशिमारिन ने स्वीकार किया कि जंग शुरू होने के कुछ दिनों बाद ही एक 62 वर्षीय निहत्थे व्यक्ति को गोली मारी थी। 

इसे भी पढ़ें: तुर्की के विरोध के बावजूद नाटो में शामिल होंगे फिनलैंड और स्वीडन, जमा करेंगे सदस्यता आवेदन 

हथकड़ी पहने हुए कैदी को हथियारों से लैस गार्डो के साथ कोर्टरूम में लाया गया। वह घबराया हुआ लग रहा था और अपना सिर झुकाए हुए थे। इस बीच जज ने रूसी सैनिक से पूछा- क्या आप अपना अपराध स्वीकार करते हैं ? इस पर वादिम शिशिमारिन ने जवाब में हां कहा।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूसी सैनिक ने अदालत में 62 वर्षीय नागरिक की पत्नी से कहा कि मैं जानता हूं आप मुझे माफ नहीं कर पाएंगे, इसके बाद भी मैं लोगों से माफी मांगता हूं। रूसी सैनिक को जब अदालत में लाया गया तो 62 वर्षीय नागरिक की पत्नी अपने आँखों से आंसू पोंछकर बैठ गई।

कैसे की नागरिक की हत्या ?

अभियोजकों के अनुसार, वादिम शिशिमारिन के काफिले जब हमला हुआ तो वो और 4 अन्य सैनिकों ने एक कार चुराई थी और वो चुपखिवका के पास गए। जहां पर उनका सामना साइकिल पर सवार 62 वर्षीय एक व्यक्ति से हुआ। वादिम शिशिमारिन को नागरिक को मारने का आदेश दिया गया था और ऐसा करने के लिए उसने असॉल्ट राइफल का इस्तेमाल किया था। 

इसे भी पढ़ें: गेहूं निर्यात पर G7 ने दिखाई आंख, चीन ने दिया साथ, इस वजह से भारत को खुश करने में जुटा है ड्रैगन 

अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट 'बीबीसी' की रिपोर्ट के मुताबिक, 62 वर्षीय नागरिक की पत्नी ने वादिम शिशिमारिन के बारे में कहा कि मुझे उसके लिए बहुत खेद है। लेकिन ऐसे अपराध के लिए मैं उसे माफ नहीं कर सकती हूं। आपको बता दें कि यूक्रेन ने अब तक रूस द्वारा किए गए 10,000 से अधिक संभावित युद्ध अपराधों की पहचान की है।

यूक्रेन की मुख्य अभियोजक इरीना वेनेडिक्तोवा ने ट्वीट किया कि इस पहले परीक्षण से हम एक स्पष्ट संकेत भेज रहे हैं कि प्रत्येक अपराधी, प्रत्येक व्यक्ति जिसने यूक्रेन में अपराधों के कमीशन में आदेश दिए या फिर सहायता की है, ऐसे लोग जिम्मेदारी से नहीं बचेंगे। हालांकि, मॉस्को ने युद्ध अपराध से साफ इनकार कर दिया है। मॉस्को का कहना है कि उसके सैनिकों ने नागरिकों का निशाना नहीं बनाया है।

अन्य न्यूज़