यूक्रेन से अनाज लेकर रवाना हुआ पहला जहाज सीरिया पहुंचा

Grain Ship
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
यूक्रेन से अनाज लेकर रवाना हुआ पहला जहाज लगता है कि सीरिया पहुंच गया है। एसोसिएटेड प्रेस द्वारा मंगलवार को उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों के विश्लेषण से यह जानकारी प्राप्त हुई है। सीरिया, रूस का करीबी है, इसके बावजूद युद्ध के समय यूक्रेन के साथ उसका खाद्यान्न को लेकर करार हुआ।

दुबई, 17 अगस्त (एपी)। यूक्रेन से अनाज लेकर रवाना हुआ पहला जहाज लगता है कि सीरिया पहुंच गया है। एसोसिएटेड प्रेस द्वारा मंगलवार को उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों के विश्लेषण से यह जानकारी प्राप्त हुई है। सीरिया, रूस का करीबी है, इसके बावजूद युद्ध के समय यूक्रेन के साथ उसका खाद्यान्न को लेकर करार हुआ। यूक्रेन की सरकार द्वारा ओडेशा बदंरगाह से यथाशीघ्र रवानगी सुनिश्चित करने के बाद मालवाहक जहाज राजोनी, सीरिया पहुंचा है।

यूक्रेन ने समझौता किया है कि युद्ध की वजह से वैश्विक स्तर पर खाद्यान्नों की कीमत में आई वृद्धि से निपटने के लिए वह मक्के, सूरजमुखी तेल और गेंहू के निर्यात के लिए जहाजों की सुरक्षित रवानगी सुनिश्चित करेगा। लेकिन सीरियाई बंदरगाह तरतूस पहुंचा जहाज इंगित करता है कि अंतरराष्ट्रीय व्यापार और सामान की आवाजाही कितनी जटिल हो सकती है। सीरिया को पहले ही यूक्रेन से गेंहू की खेप प्राप्त हो चुकी है जो रूसी कब्जे वाले यूक्रेन के इलाके से भेजी गई थी।

प्लानेट लैब्स पीबीसी की तस्वीरों के विश्लेषण से पता चला कि सियेरा लियोन का ध्वज लगा जहाज सोमवार को पूर्वाह्न 11 बजे से कुछ समय पहले सीरिया के बंदरगाह पहुंचा। यह पोत बंदरगाह पर बने अन्न भंडारण केंद्र के बगल में लंगर डाले हुए है, जहां से पूरे देश में गेंहू की आपूर्ति की जाती है। जहाजों की आवाजाही पर नजर रखने वाली वेबसाइट मरीनट्रैफिक डॉट कॉम के मुताबिक राजोनी की स्वचालित पहचान प्रणाली(एआईएस) ट्रैकर को शुक्रवार को उस समय बंद कर दिया गया था जब वह साइप्रस तट से कुछ दूरी पर था। जहाजों के लिए अपना एसआईएस ट्रैकर चालू रखना होता है, लेकिन जब जहाजों को अपनी गतिविधि छिपानी होती है तो वे इस प्रणाली को बंद कर देते हैं। सीरिया के बंदरगाह पहुंचने वाले जहाज अकसर अपना एसआईएस ट्रैकर बंद कर देते हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़