लोकप्रियता में ट्रंप ने बाइडेन को पीछे छोड़ा, अमेरिका में अभी चुनाव हुए तो काफी बदले आएंगे नतीजे

लोकप्रियता में ट्रंप ने बाइडेन को पीछे छोड़ा, अमेरिका में अभी चुनाव हुए तो काफी बदले आएंगे नतीजे

द हिल के लिए विशेष रूप से जारी किए गए एक नए हार्वर्ड सीएपीएस-हैरिस पोल सर्वे के अनुसार अमेरिका के अधिकतर लोगों की पहली पसंद अब ट्रंप हैं। सर्वे के अनुसार अगर आज 2024 के राष्ट्रपति चुनाव होते हैं, तो ट्रम्प चुनाव का नेतृत्व करेंगे। सर्वे में कहा गया है कि लगभग 48% मतदाता चाहते हैं कि ट्रंप देश का नेतृत्व करें जबकि बाइडेन को 45% वोट मिले। अन्य 8% अनिश्चित थे।

राष्ट्रपति जो बाइडेन को अभी अमेरिका की कमान संभाले कुछ ही महीने का वक्त हुआ है लेकिन उनकी रैंकिंग गिर रही है। लोकप्रियता के मामले में ट्रंप ने जो बाइडेन को पीछे छोड़ दिया है। इसके साथ ही अगर अमेरिका में आज चुनाव हुए तो ट्रंप बाइडेन से काफी आगे निकलेंगे। द हिल के लिए विशेष रूप से जारी किए गए एक नए हार्वर्ड सीएपीएस-हैरिस पोल सर्वे के अनुसार अमेरिका के अधिकतर लोगों की पहली पसंद अब ट्रंप हैं। सर्वे के अनुसार अगर आज 2024 के राष्ट्रपति चुनाव होते हैं, तो ट्रम्प चुनाव का नेतृत्व करेंगे। सर्वे में कहा गया है कि लगभग 48% मतदाता चाहते हैं कि ट्रंप देश का नेतृत्व करें जबकि बाइडेन को 45% वोट मिले। अन्य 8% अनिश्चित थे। 

डेमोक्रेटिक वोटर्स के सर्वे में बाइडेन की लोकप्रियता में और भी ज्यादा कमी हो गई है। बाइडेन के खिलाफ में 55 फीसदी लोगों ने वोट किया है जबकि समर्थन में 45 फीसदी लोग हैं। सर्वे में 51 फीसदी से ज्यादा लोगों को बाइडेन का काम पसंद नहीं आया है। रिपब्लिक वोटर्स के सर्वे में ट्रंप को बंपर जीत मिलती दिख रही है। डोनाल्ड ट्रंप को 67 फीसदी लोग पसंद कर रहे हैं। 

बाइडेन की घटती रेटिंग ने ट्रंप के लिए एक लहर पैदा कर दी है

अफगानिस्तान, कोरोना और जिस तरह से उनके वीडियो वायरल होते नजर आते हैं। कभी वो ध्यान मुद्रा में चले जाते हैं। उसके बाद से उनकी छवि एक कमजोर राष्ट्रपति के रूप में बन रही है। चाहे वहां की आर्थिक स्थिति हो या महामारी से मोर्चा, अफगानिस्तान का मसला या फिर उपराष्ट्रपति कमला हैरिस संग संबंध सभी मोर्चों पर अमेरिका में उनकी छवि कम होती जा रही है। बाइडेन भी इसे भली-भांति समझते हैं और इसी प्रयास में लगे हैं कि उनकी रेटिंग अच्छी हो। हालांकि तमाम दावों का विरोध करते हुए, डेमोक्रेट्स ने हमेशा कहा कि विपक्ष टीकाकरण के आंकड़ों के साथ खिलवाड़ कर रहा है। वर्तमान में अमेरिका की लगभग 60% आबादी को कोविड-19 वैक्सीन की दोनों खुराकें मिली हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना वायरस के अलावा मौजूदा राष्ट्रपति अमेरिकी युवाओं को नौकरी देने में विफल रहे हैं। द हिल ने पोलस्टर मार्क पेन के हवाले से कहा, "बाइडेन की घटती रेटिंग ने संभावित आम चुनाव दोनों में सभी मोर्चों पर पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के लिए एक लहर पैदा कर दी है।






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...