पंजशीर में चल रहा खूनी संग्राम, तालिबान के ठिकानों पर अज्ञात विमानों ने किया हमला

पंजशीर में चल रहा खूनी संग्राम, तालिबान के ठिकानों पर अज्ञात विमानों ने किया हमला

अफगानी मीडिया रिपोर्ट्स ने पंजशीर के डिप्टी गवर्नर के हवाले से भीषण लड़ाई होने का दावा किया। जबकि सोमवार को ही तालिबान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया था कि पूरे अफगानिस्तान पर उनका कब्जा है लेकिन अब स्थिति बदली-बदली नजर आ रही है।

काबुल। अफगानिस्तान की पंजशीर घाटी में एक बार फिर से खूनी संग्राम शुरू हो चुका है। बता दें कि सोमवार की देर रात घाटी में अहमद मसूद के लड़ाकों ने तालिबान के ठिकानों पर जमकर गोलीबारी की। वहीं, अज्ञात विमानों द्वारा बमबारी की भी जानकारी मिल रही है। 

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के फिदायिनों के दम पर तालिबान ने जीती जंग, PAF का भी मिला था सहारा 

भीषण युद्ध छिड़ा 

अफगानी मीडिया रिपोर्ट्स ने पंजशीर के डिप्टी गवर्नर के हवाले से भीषण लड़ाई होने का दावा किया। जबकि सोमवार को ही तालिबान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया था कि पूरे अफगानिस्तान पर उनका कब्जा है लेकिन अब स्थिति बदली-बदली नजर आ रही है।  

आपको बता दें कि पंजशीर और अंदराब की सड़कों पर तालिबान के लड़ाकों की मौजूदगी वाले कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए हैं।

वहीं, दूसरी तरफ नॉर्दन एलायंस का नेतृत्व कर रहे अहमद मसूद ने तालिबान के दावे को खारिज कर दिया था और ऑडियो संदेश जारी कर तालिबान के खिलाफ आखिरी सांस तक युद्ध लड़ने की बात कही थी। 

इसे भी पढ़ें: तालिबान ने 6 देशों को दिया सरकार गठन समारोह का निमंत्रण, पाकिस्तान को मिल रहा ज्यादा महत्व 

अफगानी पायलटों का हमला ! 

विशेषज्ञों का मानना है कि तालिबान के ठिकानों पर अज्ञात विमानों से जो हमला हुआ है उसे शायद अफगानी पायलटों ने अंजाम दिया है। दरअसल, काबुल में तालिबान की एंट्री के साथ बहुत से अफगानी अपना मुल्क छोड़ने के लिए विवश हो गए थे। ऐसे में अफगानी पायलटों ने भी ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान की तरफ अपना रुख कर लिया था। ऐसे में शायद इन्हीं लोगों ने तालिबान के ठिकानों पर हमला किया है। लेकिन अभी इसकी कोई भी पुष्टि नहीं हुई है।