प्रौद्योगिकी साझा करना चाहते हैं लेकिन आईपी से जुड़ी शिकायतें हैं: इजराइल

Israel
ANI
भारत और इजराइल के बीच मुक्त व्यापार समझौते को लेकर बातचीत चल रही है। इसके बीच भारत में इजराइल के राजदूत ने ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम की सफलता के लिए प्रौद्योगिकी साझा करने की इच्छा जताई है।

यरूशलम। भारत और इजराइल के बीच मुक्त व्यापार समझौते को लेकर बातचीत चल रही है। इसके बीच भारत में इजराइल के राजदूत ने ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम की सफलता के लिए प्रौद्योगिकी साझा करने की इच्छा जताई है। हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने बौद्धिक संपदा नियमों के उल्लंघन को लेकर चिंता भी व्यक्त की है। इजराइल के विदेश मंत्रालय द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भारत में इजराइल के राजदूत नाओर गिलन ने बुधवार को कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ में हम सभी की दिलचस्पी है और भारत के साथ सहयोग की अनंत संभावनाएं भी नजर आ रही हैं।

इसे भी पढ़ें: 'अपनी सुरक्षा को लेकर कन्हैयालाल का परिवार चिंतित', बेटा यश बोला- मेरे CM गहलोत से हुई बात, सरकारी नौकरी का मिला आश्वासन

हालांकि, भारत में इजराइल की कंपनियों की ओर से उन्हें आईपी समस्या से जुड़ी तीन गंभीर शिकायतें मिली हैं। गिलन ने कहा, ‘‘दो-तीन हफ्ते पहले हमारे रक्षा मंत्री भारत दौरे पर गए थे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनकी मुलाकात हुई थी तब ‘मेक इन इंडिया’ के बारे में बात हुई थी। हम सभी की इसमें रुचि है और भारत के साथ सहयोग करने की अपार संभावनाएं हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इजराइल की प्रौद्योगिकी और भारत की प्रौद्योगिकी का मेल, आपकी विनिर्माण क्षमता, दुनियाभर में कई और देशों में बिक्री करने की क्षमता, विशेषकर मुस्लिम देशों में आपके व्यापक राजनयिक संपर्कों की वजह से अपार संभावनाएं हैं। और इजराइल को ‘मेक इन इंडिया’ में बहुत दिलचस्पी है।’’ गिलन ने कहा, ‘‘हम प्रौद्योगिकी साझा करने के लिए तैयार है लेकिन मैं यह भी बिलकुल स्पष्ट कहना चाहता हूं कि आईपी से संबंधित समस्या है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़