मसाज पार्लर में आठ लोगों की हत्या की घटना में श्वेत व्यक्ति को आरोपी बनाया गया

White
अमेरिका के अटलांटा क्षेत्र में तीन मसाज पार्लर में एक घंटे से अधिक समय तक सिलसिलेवार गोलीबारी में आठ लोगों की हत्या करने के मामले में श्वेत व्यक्ति को आरोपी बनाया गया है।

अटलांटा (अमेरिका)। अमेरिका के अटलांटा क्षेत्र में तीन मसाज पार्लर में एक घंटे से अधिक समय तक सिलसिलेवार गोलीबारी में आठ लोगों की हत्या करने के मामले में श्वेत व्यक्ति को आरोपी बनाया गया है। इस घटना के बाद एशियाई-अमेरिकी समुदाय दहशत में है क्योंकि समुदाय के लोगों को कोरोना वायरस महामारी के कारण लगातार निशाना बनाया जा रहा है। घटना के एक दिन बाद जांचकर्ता यह पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं कि आखिरकार 21 वर्षीय रॉबर्ट ऐरोन लांग ने ऐसा क्यों किया। यह अमेरिका में लगभग दो वर्ष में सामूहिक हत्या की सबसे बड़ी घटना है।

इसे भी पढ़ें: तंजानिया के राष्ट्रपति जॉन मगुफुली का निधन, कोविड-19 महामारी को किया था खारिज

लांग ने पुलिस को बताया है कि यह नस्ली हमला नहीं था बल्कि इसकी वजह ‘‘यौनिच्छा’’ थी। अधिकारियों का कहना है कि उसने उन लोगों पर हमला किया जो उसके मुताबिक लालसा की वजह थीं।लेकिन हमलों के शिकार आठ लोगों में से छह एशियाई मूल की महिलाएं होने तथा हमले के स्थल के कारण इन बयानों पर संदेह जताया जा रहा है। जन प्रतिनिधि बी ग्यूयेन ने कहा कि गोलीबारी की घटना की वजह ‘‘लैंगिक हिंसा, स्त्री जाति से द्वेष तथा विदेशी लोगों से खौफ’’ लगती है।

इसे भी पढ़ें: ममता बनर्जी ने वामदलों के समर्थकों से किया आग्रह, बोलीं- भाजपा को रोकने के लिए को वोट दें तृणमूल

अधिकारियों ने कहा कि उन्हें यह नहीं पता कि लांग पहले कभी उन मसाज पार्लर में गया था या नहीं जहां गोलीबारी हुई लेकिन यह जरूर पता है कि वह ‘एक प्रकार की पॉर्न इंडस्ट्री’ पर हमला करने फ्लोरिडा जा रहा था। चेरोकी काउंटी के शेरिफ कैप्टन जे बाकर ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘उसे कोई समस्या है जिसे वह ‘‘यौनिच्छा’’ मानता है। ये स्थान उसके लिए लालसा का कारण है जिन्हें वह खत्म कर देना चाहता था।’’ शेरिफ फ्रेंक रेनॉल्ड्स ने कहा कि यह कहना जल्दबादी होगी कि हमला नस्ली था लेकिन ‘‘जो संकेत मिले हैं उनसे लगता है कि ऐसा नहीं था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़