नशे में आया आइडिया, 15 डॉलर में खरीदा लोगो, ट्विस्ट एंड टर्न से भरी है Twitter की कहानी, प्लेटफॉर्म पर क्या होंगे बदलाव

नशे में आया आइडिया, 15 डॉलर में खरीदा लोगो, ट्विस्ट एंड टर्न से भरी है Twitter की कहानी, प्लेटफॉर्म पर क्या होंगे बदलाव
Prabhasakshi

एलन मस्क ने ट्विटर को 44 बिलीयन डॉलर यानी 3.37 लाख करोड़ रुपये का ऑफर इसे खरीदने के लिए दिया था। ट्विटर के बोर्ड ने इस प्रस्ताव को मान लिया है। यह पैसा इतना है कि इससे श्रीलंका जिस देश का आधा कर्ज़ चुकाया जा सकता है।

फरवरी 2006 की बात है। एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर और एक वेब डिजाइनिंर बार के बाहर बैठे थे। दोनों के बीच दो कॉमन बात थी। दोनों नशे में थे और दोनों ही odeo नामक कंपनी से जुड़े थे। एक इस कंपनी का को फाउंडर था को दूसरा बतौर वेब डेवलपर इस कंपनी से जुड़ा था। वेब डेवलपर ने कहा कि मेरे लिए यहां अब कुछ नहीं है, मैं सब छोड़कर फैशन डिजाइनर बनना चाहता हूं। जवाब में odeo के को फाउंडर ने भी कहा कि इरादा तो मेरा भी कुछ ऐसा ही है। लेकिन असल में तुम करना क्या चाहते हो। तब उसने कहा कि मेरा सपना एक ऐसी वेबसाइट बनाने का है जिस पर लोग अपना करेंट स्टेटस बताएं। वो क्या कर रहे हैं? क्या सोच रहे हैं? वगैरह-वगैरह। odeo कंपनी चलाने वाले व्यक्ति ने कहा कि आइडिया तो अच्छा है चलो इस पर काम करते हैं। शराब के नशे में दो लोगों की हुई इस बातचीत ने अगले कुछ दिनों में एक कागजी रूप लिया और देखते ही देखते दुनिया की एक बड़ी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का खाका खिंच गया जिसे वर्तमान में हम ट्विटर के नाम से जानते हैं।  वेब डेपलपर जैक डोर्सी और उनके दोस्त व odeo के को फाउंडर नोवा ग्लास ने इसे शुरुआत में twttr का नाम दिया बाद में ये बदलकर twitter हो गया। आज उसी ट्विटर को दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने 44 अरब डॉलर में खरीद लिया है। 

इसे भी पढ़ें: Prabhasakshi Newsroom। Twitter के मालिक बने Elon Musk, 44 बिलियन डॉलर में बिक गई कंपनी

एलन मस्क का हुआ ट्विटर 

एलन मस्क ने ट्विटर को  44 बिलीयन डॉलर यानी 3.37 लाख करोड़ रुपये का ऑफर इसे खरीदने के लिए दिया था। ट्विटर के बोर्ड ने इस प्रस्ताव को मान लिया है। यह पैसा इतना है कि इससे श्रीलंका जिस देश का आधा कर्ज़ चुकाया जा सकता है। एक शेयर के बदले 54.20 डॉलर यानी करीब 4000 की बोली लगाई गई। हालांकि बोर्ड मेंबर की तरफ से इससे टेकओवर को रोकने के लिए काफी प्रयास किए गए थे। अब बोर्ड मेंबर इस डील पर तैयार हो गए। ट्विटर को शुरू हुए 16 साल हुए हैं।  ट्विटर के बिक जाने की खबर की पुष्टि खुद ट्विटर ने की। ऐसे में आज हमने आपके लिए 16 साल पुरानी कंपनी की शुरुआत से लेकर इसके बिकने तक की कहानी और इसमें आगे क्या-क्या बदलाव आ सकते हैं इसको लेकर एक विश्लेषण तैयार किया है। 

पैसे के लिए नहीं प्रभाव के लिए खरीदा

जो काम एक ट्वीट कर सकता है वह काम कोई बड़ा हथियार मिसाइल नहीं कर सकता है। बड़े-बड़े इंफ्लुइन्सर, ब्लू टिक वाले लोगों को आसानी से प्रभावित कर पाएंगे। एलेन मस्क का मानना है कि फ्री स्पीच के लिए ट्विटर को प्राइवेट करना होगा। इस वजह से उन्होंने ट्विटर को खरीदने का फैसला किया है। मस्क ट्विटर की ताकत को समझते हैं और अपनी बात कहने के लिए इसका खूब इस्तेमाल करते हैं। इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उनके 8.1 करोड़ फॉलोअर्स हैं। उनके एक ट्विट से क्रिप्टोकरेंसीज की कीमत में भारी उतार-चढ़ाव आ सकता है। मार्च 2021 में एलेन मस्क ने कहा था कि टेस्ला बिटक्वाइन स्वीकार करना शुरु कर देगी। लोगों ने सोचा की बिटक्वाइन की डिमांड बढ़ने वाली है और लोगों ने इसे खरीदना शुरू कर दिया। बिटक्वाइन का रेट भी बढ़ने लगा। बिटक्वाइन एलेन मस्क के ऐलान से पहले 60 हजार डॉलर पर था वो 30 हजार डॉलर पर आ गया। मस्क ने इसके साथ ही एक नया सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म बनाने का आइडिया भी दिया है। 

इसे भी पढ़ें: आज रात से बदल सकता है ट्विटर का मालिक, मस्क का दबाब आया काम, ऑफर पर बोर्ड कर रहा विचार

ट्विटर की सॉफ्ट पावर

दुनिया भर में ट्विटर यूजर की संख्या 2010 में कुल 5 करोड़ 40 लाख थी। 2021 में यह 40 करोड हो चुकी है। जिसमें से 20 करोड़ 60 लाख की यूजर हर दिन ट्विटर एक्सेस करते हैं। यह समय जितने लोग सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं उनमें से 8.85% यूजर्स टि्वटर एक्सेस करते हैं। इसके अलावा इंटरनेट के 7.2% यूजर्स महीने में एक बार ट्विटर का इस्तेमाल जरूर करते हैं।

                                          दुनिया मे ट्विटर यूजर

 अमेरिका

 7.30 करोड़
 जापान 5.55 करोड़
 भारत 2.21 करोड़
 यूके 1.75 करोड़
 ब्राजील 1.72 करोड़
 इंडोनेशिया 1.57 करोड़
 तुर्की 1.56 करोड़
 सऊदी अरब 1.27 करोड़
 मेक्सिको 1.2 करोड़
 थाईलैंड 94 लाख

ट्विटर की शुरुआत

जैक डोर्सी, इवान विलियमस, नोआह ग्लास और  बिज स्टोन ने सेन फ्रेंसिस्को से शुरू किया था। ट्विटर की शुरुआत पोडकास्टिंग वेंचर odeo के जरिये हुई थी। 21 मार्च 2006 को ट्विटर की शुरुआत हुई थी। ट्विटर का नाम पहले twttr था। वक्त के साथ इस कंपनी में कई बड़े बदलाव होते रहे हैं। 2007 में हैशटैग के उपयोग का प्रस्ताव दिया गया। 2012 तक, 100 मिलियन से अधिक यूजर ने एक दिन में 340 मिलियन ट्वीट पोस्ट किए और सर्विसने प्रति दिन औसतन 6 बिलियन सर्च क्यूएरी को संभाला। 2013 में, यह दस सबसे अधिक देखी जाने वाली वेबसाइटों में से एक थी और इसे "इंटरनेट के एसएमएस" के रूप में वर्णित किया गया। 2019 की शुरुआत तक, ट्विटर के 330 मिलियन से अधिक मंथली एक्टिव यूजर थे। ट्विटर का लोगो भी चिड़िया का है। इसे ब्रिटिश ग्राफिक्स डिजाइनर सिमोन ऑग्जली ने डिजाइन किया था। ट्विटर के एक स्टाफ ने इसे 15 डॉलर में खरीद लिया था। 

इसे भी पढ़ें: क्या Elon Musk खरीदने वाले है Twitter? अपने डील को बताया था बेस्ट

किसने किया पहला ट्वीट

ट्विटर पर सबसे पहला ट्विट इसके सीईओ जैक डोर्सी ने किया था। ये ट्विट 22 मार्च 2006 को किया गया था और ट्विटर पर ये अभी भी मौजूद है। इस ट्विट में लिखा था- जस्ट सेटिंग अप मॉय ट्विटर। हालांकि इससे पहले जैक डोर्सी ने इस पहले ट्वीट को क्रिप्टोकरेंसी के रूप में बेचने की घोषणा की थी। अब इस ट्विट को बेच दिया गया है। पिछले साल मार्च को ही ट्विटर के पहले ट्वीट को बेचा गया है।  

                                        ट्विटर पर हर उम्र के लोग 

 18-24 वर्ष 17.1 %
 13-17 वर्ष 6.60 %
 25-34 वर्ष 38.5 %
 35-49 वर्ष 20.7 %
 50+ 17.1 %

जब मस्क ने पूछा- कितने में बिक रहा ट्विटर

एलन मस्क का साल 2017 का एक ट्वीट खूब वायरल हो रहा है। जिसमें उन्होंने पूछा था कि ट्विटर कितने पैसों में बिक रहा है। 21 दिसंबर को किए ट्वीट में मस्क ने लिखा था कि मुझे ट्विटर से प्यार है। उनके इस ट्वीट पर एक सोशल मीडिया यूजर डेव स्मिथ ने लिखा था कि आपको इसे खरीद लेना चाहिए। जवाब में मस्क ने लिखा- कीमत कितनी है?

प्लेटफॉर्म पर क्या होंगे बदलाव?

एल्गोरिदम हो सकता है ओपन सोर्स: आम यूजर्स के लिए सबसे बड़ा सवाल ये है कि इस डील से ट्विटर में क्या बदलाव देखने को मिलेंगे। मस्क ने कहा है कि वे नई सुविधाओं के साथ प्रोडक्ट को भरोसा बढ़ाने के लिए एल्गोरिदम को ओपन सोर्स बनाकर, स्पैम बॉट्स को हराकर और सभी लोगों को प्रमाणित कर ट्विटर को पहले से बेहतर बनाना चाहते हैं। 

क्या अब ट्विटर पर एडिट बटन देखने को मिलेगा?: ट्विटर को खरीदने की डील से पहले 5 अप्रैल को मस्क ने एक ट्विटर पोल कराया था। जिसमें उन्होंने लोगों से पूछा था कि क्या आप एडिट बटन चाहते हैं। पोल में ज्यादातर लोगों ने एडिट बटन के आइडिया का समर्थन किया था। करीब 73.6 फीसदी लोगों ने हां में जवाब दिया था जबकि 26.4 फीसदी ने एडिट बटन के आइडिया को नो कहा था। दिलचस्प बात ये है कि मस्क ने यस और नो की स्पेलिंग को गलत लिखा था। उन्होंने अंग्रेजी में yes और on लिखा था। 

इसे भी पढ़ें: ट्विटर ने जलवायु परिवर्तन पर विज्ञान का खंडन करने वाले विज्ञापनों पर रोक लगाई

फ्री स्पीच बनाम आपत्तिजनक पोस्ट

मस्क ने खुद को "फ्री स्पीच" का हिमायती बताया है। उन्होंने अक्सर यह तर्क दिया है कि भले ही कोई सोशल मीडिया पोस्ट आपत्तिजनक हो, अगर वह अवैध नहीं है तो उसे हटाया नहीं जाना चाहिए। मस्‍क ने टेड टॉक में ट्विटर को लेकर अपने इरादे जाहिर किए। उन्‍होंने ट्विटर को 'पब्लिक टाउन स्‍क्‍वायर' बताते हुए कहा कि 'यह जरूरी है कि लोगों को वाकई में यह लगे कि वे कानून की सीमाओं में रहते हुए खुलकर बोल सकते हैं।  मस्‍क ने 'फ्री स्‍पीच' की अपनी परिभाषा भी समझाई। उन्‍होंने कहा कि 'आप जिसे पसंद नहीं करते, क्‍या उसे कुछ ऐसा कहने की इजाजत है जो आपको पसंद नहीं? अगर ऐसा है तो फ्री स्‍पीच है।'

ट्रंप की होगी ट्विटर पर वापसी

एलेन मस्क की तरफ से ट्विटर को खरीदने के बाद पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी खूब ट्रेंड करने लगे। ट्रंप के दोस्त के हाथों में ट्विटर की कमान आने के बाद क्या अब फिर से उनकी इस प्लेटफॉर्म पर वापसी होगी। इसको लेकर चर्चाएं तेज हो गईं। पूछा जाने लगा कि क्या ट्रंप का ट्विटर अकाउंट बहाल होगा या नहीं। हालांकि पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ने ट्विटर पर वापसी से इनकार कर दिया है। फॉक्स न्यूज से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मैं ट्विटर पर वापस नहीं जा रहा हूं। मैं अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्रूथ सोशल पर ही रहूंगा। मस्क एक बेहतरीन पर्सन हैं, वह ट्विटर में जरूर सुधार करेंगे।

-अभिनय आकाश