दिल्ली में कोरोना वायरस के 1072 नए मामले, 117 मरीजों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 27, 2021   18:22
दिल्ली में कोरोना वायरस के 1072 नए मामले, 117 मरीजों की मौत

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने एकबुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी। यह लगातार पांचवां दिन है जब दिल्ली में कोविड-19 के नए मामलों की संख्या दो हजार से कम रही है। संक्रमण के नए मामलों की संख्या लगातार दूसरे दिन 1500 से नीचे रही है।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 117 मरीजों की मौत हुई जो कि 15 अप्रैल के बाद एक दिन में इस महामारी से जान गंवाने वालों की सबसे कम संख्या है। इस दौरान दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,072 नए मामले सामने आए जबकि संक्रमण दर घटकर 1.53 प्रतिशत रह गई। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने एकबुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी। यह लगातार पांचवां दिन है जब दिल्ली में कोविड-19 के नए मामलों की संख्या दो हजार से कम रही है। संक्रमण के नए मामलों की संख्या लगातार दूसरे दिन 1500 से नीचे रही है।

बुधवार को राजधानी में 70,068 नमूनों की कोविड-19 जांच की गयी। राजधानी में 15 अप्रैल को कोविड-19 के कारण 112 लोगों की मौत हुई थी। दिल्ली में बुधवार को इस महामारी से 130 लोगों की मौत हुई थी जबकि संक्रमण के 1,491 नए मामले सामने आए थे और संक्रमण दर 1.93 प्रतिशत थी। राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,568 नए मामले सामने आए थे जबकि 156 लोगों की मौत हुई थी और संक्रमण की दर 2.14 प्रतिशत थी। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना टीकाकरण को लेकर फैलाई जा रही अफवाह, नीति आयोग में सभी मिथकों को किया दूर

सोमवार को दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,550 नए मामले सामने आए थे जबकि 207 लोगों की मौत हुई थी और संक्रमण की दर 2.52 प्रतिशतथी। रविवार को राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,649 नए मामले सामने आए थे जबकि 189 लोगों की मौत हुई थी और संक्रमण की दर 2.42 प्रतिशत थी। गौरतलब है किदिल्ली में 20 अप्रैल को कोविड-19 के रिकार्ड 28 हजार से अधिक नए मामले सामने आए थे जबकि दो मई को इस महामारी के कारण सर्वाधिक 407 मरीजों की मौत हुई थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।