लॉकडाउन से पहले अवकाश पर गए 15 पुलिसकर्मियों को अमेठी में पृथक-वास में रखा गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 25, 2020   11:30
लॉकडाउन से पहले अवकाश पर गए 15 पुलिसकर्मियों को अमेठी में पृथक-वास में रखा गया

पुलिस क्षेत्राधिकारी पीयूष कांत राय ने शनिवार को बताया कि ये पुलिसकर्मी 25 मार्च को लागू किए गए बंद से पहले अवकाश पर गये थे। बंद लागू होने के कारण ये वापस नहीं लौट सके थे। ऐसे में उन्हें अपने-अपने गृह जिलों में ड्यूटी करने का आदेश दिया गया था।

अमेठी। कोरोना वायरस संक्रमण को काबू करने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन (बंद) से पहले अवकाश पर गए 15 पुलिसकर्मियों को अमेठी जिले में पृथक-वास में रखा गया है। इनमें तीन महिला पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। पुलिस क्षेत्राधिकारी पीयूष कांत राय ने शनिवार को बताया कि ये पुलिसकर्मी 25 मार्च को लागू किए गए बंद से पहले अवकाश पर गये थे। बंद लागू होने के कारण ये वापस नहीं लौट सके थे। ऐसे में उन्हें अपने-अपने गृह जिलों में ड्यूटी करने का आदेश दिया गया था। 

इसे भी पढ़ें: प्रियंका ने यूपी में कोरोना की जांच में पारदर्शिता को लेकर चिंता जताई, कहा- सही जानकारी दे योगी सरकार

राय ने बताया कि बंद की अवधि बढ़ाए जाने के बाद बल की कमी को देखते हुए इन पुलिसकर्मियों को वापस यहां ड्यूटी पर बुलाया गया। ये सभी अन्य जिलों में ड्यूटी करके आये थे, इसलिए उन्हें अलग-अलग जगहों पर एहतियातन पृथक-वास में रखा गया है। राय ने बताया कि इन सभी की जांच रिपोर्ट में इनमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि अमेठी में अब तक कोरोना वायरस का कोई मरीज नहीं है। संक्रमण संबंधी जांच के लिए 309 नमूने भेजे गये थे जिनमें संक्रमण नहीं पाया गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।