प्रियंका ने यूपी में कोरोना की जांच में पारदर्शिता को लेकर चिंता जताई, कहा- सही जानकारी दे योगी सरकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 25, 2020   11:24
प्रियंका ने यूपी में कोरोना की जांच में पारदर्शिता को लेकर चिंता जताई, कहा- सही जानकारी दे योगी सरकार

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने ट्वीट किया, ‘‘उप्र में जांच को लेकर काफी लोग चिंताएं व्यक्त कर रहे हैं। कोरोना से लड़ाई में पारदर्शिता बड़े काम की चीज है। सर्व समाज और सरकार मिलकर ही इस महामारी को शिकस्त दे सकते हैं।’’

नयी दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस जांच की स्थिति को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए शनिवार को कहा कि इस मामले में पूरी पारदर्शिता होनी चाहिए क्योंकि आंकड़ा और सच्चाई छिपाना घातक साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार को पूरी स्थिति की सही जानकारी उपलब्ध करानी चाहिए ताकि जनता और प्रशासन कोरोना के खिलाफ एकजुट होकर लड़ सके। कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने ट्वीट किया, ‘‘उप्र में जांच को लेकर काफी लोग चिंताएं व्यक्त कर रहे हैं। कोरोना से लड़ाई में पारदर्शिता बड़े काम की चीज है। सर्व समाज और सरकार मिलकर ही इस महामारी को शिकस्त दे सकते हैं।’’ 

इसे भी पढ़ें: राहुल की मांग, जरूरतमंदों को अन्न और जीविका की सुरक्षा दे सरकार

उन्होंने दावा किया, ‘‘ पूरी दुनिया मान चुकी है कि ढंग से और ज्यादा से ज्यादा जांच करना ही कोरोना के रोकथाम की कुंजी है। उप्र सरकार ने दो दिनों से जांच की संख्या बताना बंद कर दिया है।’’ प्रियंका ने कहा कि जांच को लेकर पूरी तरह तरह पारदर्शिता होनी चाहिए ताकि जनता को जानकारी मिले और समाज एवं प्रशासन इस महामारी के खिलाफ एकजुट होकर लड़ पाएं। उन्होंने कहा, ‘‘ आंकड़े और सच्चाई छिपाने से यह समस्या और घातक हो जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: राहुल और प्रियंका गांधी ने प्रवासी कामगारों को राहत देने की पैरवी की

उप्र सरकार को यह जल्द से जल्द से समझना होगा। प्रदेश के किस लैब में कितनी जांच हो रही है, सभी लैब कि प्रतिदिन जांच की क्षमता क्या है, यह आंकड़ा जनता के समक्ष रखना जरूरी है।’’ उनके मुताबिक उत्तर प्रदेश में जांच पूल टेस्टिंग (एकसाथ कई नमूनों की जांच) नियमों का पालन करते हुए होनी चाहिए और पूरी सावधानी बरती जानी चाहिए। प्रियंका ने यह भी कहा, ‘‘पृथक-वास केंद्रों में विश्व स्वास्थ्य संगठन के दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी है। पृथक-वास की अवधि पूरी करके जाने वालों की दोबारा जांच को लेकर स्थिति स्पष्ट होनी चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...