बेरोजगारी बनी मौत का कारण, एक ही परिवार के 2 लोगों की हुई मौत तो वहीं 2 लोगों का चल रहा है इलाज

बेरोजगारी बनी मौत का कारण, एक ही परिवार के 2 लोगों की हुई मौत तो वहीं 2 लोगों का चल रहा है इलाज

मामला मिसरोद थाना क्षेत्र के सहारा स्टेट का है। यहां एक ही परिवार के 4 लोगों ने आत्मघाती कदम उठा लिया। मृतक पेशे से सिविल इंजीनियर था और वह अपनी पत्नी और दो बच्चों 16 साल के बेटे और 14 साल की बेटी के साथ यहांं रहता था।

भोपाल। राजधानी भोपाल में 1 परिवार द्वारा आत्मघाती कदम उठाए जाने की एक खबर सामने आई है। जानकारी मिली है कि इस घटना में बेटी और पति की मौत हो गई है वहीं पत्नी और बेटे को गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

इसे भी पढ़ें:होशंगाबाद में नोटरी अधिवक्ता ने की खुदखुशी,कोर्ट में खड़े होकर पिस्टल से मारी खुद को गोली 

दरअसल मामला मिसरोद थाना क्षेत्र के सहारा स्टेट का है। यहां एक ही परिवार के 4 लोगों ने आत्मघाती कदम उठा लिया। मृतक पेशे से सिविल इंजीनियर था और वह अपनी पत्नी और दो बच्चों 16 साल के बेटे और 14 साल की बेटी के साथ यहांं रहता था। ऐसा बताया जा रहा है कि मृतक काफी दिनों से बेरोजगार था और आर्थिक तंगी की वजह से परेशान था।

इसे भी पढ़ें:एनएसजी के कमांडो की हुई मॉक ड्रिल, आंतकी हमले से बचने जतु चलाया एंटी टेरेसिस्ट ऑपेरशन 

रिपोर्ट्स के मुताबिक उसने पहले अपने बेटे और बेटी के गले को ब्लेड से काट दिया और फिर उसके बाद पति-पत्नी ने जहर पी लिया। इस घटना में बेटी और पति की मौत हो गई है। वहीं पत्नी और बेटे को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।