2022 चैत्र नवरात्र,घोड़े पर आएंगी मां दुर्गा भैंसे पर करेंगी प्रस्थान

2022 चैत्र नवरात्र,घोड़े पर आएंगी मां दुर्गा भैंसे पर करेंगी प्रस्थान

घोड़े पर आएंगी मां दुर्गा भैंसे पर करेंगी प्रस्थान। चैत्र नवरात्र का 11 अप्रैल को होगा समापन। अभिजीत मुहूर्त में होगी घटस्थापना नवमी 10 अप्रैल को होगी। इसके लिए मेरठ के मंदिरों में तैयारियां शुरू हो गई हैं।

मेरठ,चैत्र माह शुरू हो चुका है। हिंदू पंचांग के अनुसार यह हिंदू नववर्ष का पहला महीना होता है। इस माह में नवरात्र पूजन का विशेष महत्व है। चैत्र नवरात्र इस बार 2 अप्रैल से शुरू होकर 11 अप्रैल को समाप्त हो रहे हैं। इसमें मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा और व्रत किए जाएंगे। इस बार चैत्र नवरात्र की शुरुआत शनिवार को हो रही है।

माना जाता है कि शनिवार के दिन नवरात्र प्रारंभ होने से मां दुर्गा घोड़े पर सवार होकर पृथ्वी पर आती हैं। घोड़े को युद्ध का प्रतीक माना जाता है। साथ ही शासन और सत्ता में भी बदलाव की स्थिति बनती है। वहीं, इस साल चैत्र नवरात्र की नवमी 10 अप्रैल रविवार को है। रविवार के दिन मां दुर्गा भैंसे की सवारी पर प्रस्थान करेंगी। भैंसे की सवारी का अर्थ है रोग, दोष और कष्ट का बढऩा। कैंट स्थित बाबा ओगड़नाथ मंदिर के पुजारी सारंगधर जी का कहना है कि चैत्र नवरात्र 2 अप्रैल से प्रारंभ हो रहे हैं। इस दिन घटस्थापना का विशेष महत्व है। इसका शुभ मुहूर्त सुबह 6.01 से 8.31 बजे तक रहेगा। इसके अलावा अभिजीत मुहूर्त दोपहर 12 से 12.50 बजे तक रहेगा। इस समय घटस्थापना कर मां शैलपुत्री की पूजा की जाएगी।

ज्योतिषाचार्य प० कैलाश दत्त  का कहना है कि चैत्र माह में नवरात्र होने की वजह से शादी, विवाह, मुंडन, गृह प्रवेश, नामकरण और अन्य शुभ और मांगलिक कार्य भी किए जा सकते हैं। नवरात्र के बाद 15 अप्रैल से एक बार फिर शादी के शुभ मुहूर्त की शुरुआत हो रही है। इसके बाद मई, जून और जुलाई में शादी के कई शुभ मुहूर्त रहेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...