जून को अयोध्या जाएंगे आदित्य ठाकरे, संजय राउत बोले- हमारा प्रभु श्री राम के साथ नाता है और रहेगा

जून को अयोध्या जाएंगे आदित्य ठाकरे, संजय राउत बोले- हमारा प्रभु श्री राम के साथ नाता है और रहेगा
ANI

आदित्य ठाकरे के अयोध्या दौरे को लेकर संजय राउत ने कहा कि वह 10 जून को अयोध्या जाएंगे। आदित्य ठाकरे के साथ पूरे राज्य से शिव सैनिक और युवा सैनिक भी अयोध्या जाएंगे। दूसरी ओर जानकारी यह भी है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे की अयोध्या का दौरा कर सकते हैं।

महाराष्ट्र में हिंदुत्व को लेकर राजनीति गर्म है। शिवसेना और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना आमने-सामने हैं। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे लगातार उद्धव ठाकरे और उनकी सरकार के खिलाफ हमलावर है। इन सबके बीच हिंदुत्व की लड़ाई भी अब जोरों पर है। यही कारण है कि शिवसेना नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे अयोध्या दौरे पर जा रहे हैं। आदित्य ठाकरे के अयोध्या दौरे को लेकर संजय राउत ने कहा कि वह 10 जून को अयोध्या जाएंगे। आदित्य ठाकरे के साथ पूरे राज्य से शिव सैनिक और युवा सैनिक भी अयोध्या जाएंगे। दूसरी ओर जानकारी यह भी है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे की अयोध्या का दौरा कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: संजय राउत बोले- देश में महंगाई बड़ी समस्या, प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री कुछ बोलने को तैयार नहीं

अपने बयान में संजय राउत ने कहा कि आदित्य ठाकरे 10 जून को अयोध्या जाएंगे और उनके साथ पूरे राज्य से शिवसैनिक, युवा सैनिक जाएंगे। हमारा अयोध्या जाना कोई राजनीति से प्रेरित नहीं है। हम श्रद्धा, लगन और भक्ति के साथ उधर जाएंगे। हमारा प्रभु श्री राम के साथ नाता है और रहेगा। खबर के मुताबिक के राज ठाकरे 4 या 5 जून को अयोध्या जा सकते हैं। महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर विवाद के बीच अयोध्या अप राजनीति के केंद्र में आ गया है। बाला साहब ठाकरे का भी नाम जबरदस्त तरीके से चर्चा है और उससे राजनीतिक लाभ लेने की दोनों ओर से लगातार कोशिश की जा रही है।

राज ठाकरे की ओर से होटल के कमरे भी अयोध्या में बुक कर लिए गए हैं। आपको बता दें कि हाल में ही राज ठाकरे की ओर से महाराष्ट्र में मस्जिदों के ऊपर से लाउडस्पीकर हटाने का अभियान चलाया गया था। वहीं, भाजपा सांसद ब्रजभूषण शरण सिंह ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे के पांच जून को प्रस्तावित अयोध्या दौरे का विरोध किया है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा, ‘‘जब तक वह उत्तर भारतीयों से सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांग लेते तब तक उन्हें अयोध्या की सीमा में घुसने नहीं देंगे।’’





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।