एयरो इंडिया रक्षा एवं एयरोस्पेस क्षेत्र में भारत के लगातार मजबूत होने का साक्ष्य है: राष्ट्रपति कोविंद

President Kovind
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, ‘‘मैं प्रसन्न हूं कि कोविड-19 महामारी के चलते पैदा हुई चुनौतियों के बावजूद एयरो इंडिया 2021 सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। कोविड-19 बचाव संबंधी नियमों का पालन करते हुए इसके उत्साह में कोई कमी नहीं रही।’’

बेंगलुरु। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को कहा कि एयरो इंडिया 2021 वैश्विक स्तर पर रक्षा एवं एयरोस्पेस क्षेत्र में भारत के लगातार मजबूत होने का जीता जागता सबूत है। राष्ट्रपति ने तीन दिवसीय कार्यक्रम के समापन के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि यह आयोजन रक्षा क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता को मजबूत करने के साथ-साथ हमारे देश को दुनिया के लिए निर्माता के रूप में स्थापित करने की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान देगा। कोविंद ने कहा कि इस आयोजन ने यह प्रदर्शित किया है कि देश की क्षमताओं को लेकर वैश्विक भरोसा धीरे-धीरे बढ़ रहा हैं। 

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रपति कोविंद चार से सात फरवरी तक कर्नाटक और आंध्र प्रदेश की करेंगे यात्रा 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं प्रसन्न हूं कि कोविड-19 महामारी के चलते पैदा हुई चुनौतियों के बावजूद एयरो इंडिया 2021 सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। कोविड-19 बचाव संबंधी नियमों का पालन करते हुए इसके उत्साह में कोई कमी नहीं रही।’’ येलहांका वायु सेना अड्डे पर आयोजित एयरो इंडिया 2021 कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने भारत के हवाई क्षेत्र को सुरक्षित रखने के लिए भारतीय वायुसेना के पायलटों के योगदान की सराहना भी की। उन्होंने कहा कि एयरो इंडिया 2021 ने अभूतपूर्व सफलता हासिल की है। मुझे बताया गया कि इस आयोजन में 43 देशों के उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ ही 530 कंपनियों ने भाग लिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़