शिंदे के दावे पर भाजपा की बैठक में हुई चर्चा, इंतजार के मूड में नजर आ रही पार्टी, महाराष्ट्र और जनता के हित में लेगी निर्णय

 Sudhir Mungantiwar
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भाजपा कोर कमेटी की बैठक संपन्न हुई। जिसमें राज्य की राजनीतिक स्थिति का आकलन और चर्चा की गई। एकनाथ शिंदे ने कहा कि उनका गुट असली शिवसेना है, इस पर भी चर्चा हुई।

मुंबई। महाराष्ट्र के सियासी ड्रामा जारी है। शिवसेना का बागी एकनाथ शिंदे कैंप में लगातार विधायकों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस के आवास पर मौजूदा घटनाक्रम को लेकर पार्टी नेताओं की बैठक हुई। जिसमें थोड़ा इंतजार करने की आम राय बनी। भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने भाजपा कोर कमेटी की बैठक की जानकारी दी। 

इसे भी पढ़ें: क्या शिंदे कैंप का मनसे में होगा विलय ? बागियों के पास मौजूद है 3 पार्टियों का विकल्प, एकनाथ ने राज ठाकरे से फोन पर की थी बात 

भाजपा नेता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भाजपा कोर कमेटी की बैठक संपन्न हुई। जिसमें राज्य की राजनीतिक स्थिति का आकलन और चर्चा की गई। एकनाथ शिंदे ने कहा कि उनका गुट असली शिवसेना है, इस पर भी चर्चा हुई। हमने चर्चा की कि वर्तमान परिदृश्य को लेकर हमें भविष्य में क्या भूमिका निभानी चाहिए।

सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि चर्चा के बाद यह निर्णय लिया गया कि हम इंतजार करेंगे और देखेंगे कि क्या परिस्थिति बनती है। आने वाले दिनों में स्थिति के आधार पर एक कोर टीम एक बार फिर बैठक करेगी। भाजपा तब महाराष्ट्र के हित में जनता के हित में निर्णय लेगी। 

इसे भी पढ़ें: अजीत पवार के असफल तख्तापलट की कोशिशों के साथी और महाराष्ट्र ड्रामा के लीड प्लेयर नरहरि ज़िरवाल, ठाकरे सरकार का भविष्य जिनके हाथों में है 

भाजपा की कोर कमेटी की बैठक ऐसे समय में हुई जब महाराष्ट्र में जारी सियासी ड्रामे को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने बागी विधायकों की अयोग्यता कार्रवाई पर 11 जुलाई तक की रोक लगा दी है। शिवसेना बागी नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में एमवीए सरकार के खिलाफ शुरू हुई बगावत को एक हफ्ते हो रहे हैं। उनका तीन दर्जन से ज्यादा विधायकों के समर्थन का दावा है। दोनों ही पक्ष अपने रुख पर अड़े हुए हैं और लंबी लड़ाई के लिये तैयार दिख रहे हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़