UP के बाद अब मध्य प्रदेश के मदरसों में भी राष्ट्रगान होगा अनिवार्य? नरोत्तम मिश्रा ने दिए संकेत

UP के बाद अब मध्य प्रदेश के  मदरसों में भी राष्ट्रगान होगा अनिवार्य? नरोत्तम मिश्रा ने दिए संकेत
ANI

रिपोर्टर के सवाल 'उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य करने के बाद क्या मध्य प्रदेश में भी ऐसा किया जा सकता है?' जिसके जवाब में मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि राष्ट्रगान हर जगह होना चाहिए... विचारणीय बिन्दु है, विचार किया जा सकता है।

रमजान की छुट्टी के बाद खुल रहे सभी मदरसों में राष्ट्रगान को अनिवार्य कर दिया गया। उत्तर प्रदेश के सभी मदरसों में 12 मई से रोजाना राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य कर दिया गया। इससे संबंधित आदेश भी जारी हो चुके हैं। जिसके बाद से इसको लेकर बयानबाजी भी शुरू हो गई। एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि हमें भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से देशभक्ति का प्रमाणपत्र नहीं चाहिए। वहीं अब मध्य प्रदेश में भी मदरसों में राष्ट्रान को अनिवार्य किया जा सकता है। इसके संकेत गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की तरफ से दिए गए हैं। एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान सवाल पर उन्होंने कहा कि ये एक विचारणीय बिंदु हैं। इस मुद्दे पर विचार किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: UP: मदरसों में राष्ट्रगान पर भड़के ओवैसी, कहा- देशभक्ति का सर्टिफिकेट हमें मत दीजिए

रिपोर्टर के सवाल 'उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य करने के बाद क्या मध्य प्रदेश में भी ऐसा किया जा सकता है?' जिसके जवाब में मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि राष्ट्रगान हर जगह होना चाहिए... विचारणीय बिन्दु है, विचार किया जा सकता है। इसके साथ ही नरोत्तम मिश्रा ने उदयपुर में आयोजित कांग्रेस के चितिंन शिविर पर भी टिप्पणी करते हुए कहा कि यह चिंतन शिविर नहीं चिंता शिविर है। पार्टी को बचाने की चिंता है। कांग्रेस को राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की चिंता है। 

उत्तर प्रदेश के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य

उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड के रजिस्ट्रार एसएन पांडे ने गत नौ मई को सभी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों को इस बारे में आदेश जारी किया। पांडे ने आदेश में कहा है कि पिछली 24 मार्च को बोर्ड की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुरूप नये शिक्षण सत्र से सभी मदरसों में प्रार्थना के समय राष्ट्रगान अनिवार्य कर दिया गया है। पांडे ने बताया कि रमजान माह के दौरान मदरसों में 30 मार्च से 11 मई तक अवकाश घोषित था और 12 मई से नियमित कक्षाएं शुरू हुईं लिहाजा यह आदेश आज से लागू हो गया है। आदेश में कहा गया है कि राज्य के सभी मान्यता प्राप्त अनुदानित और गैर अनुदानित मदरसों में आगामी शिक्षण सत्र से कक्षाएं शुरू होने से पहले अन्य दुआओं के साथ समवेत स्वर में शिक्षकों और छात्र-छात्राओं को राष्ट्रगान का गायन अनिवार्य रूप से करना होगा। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों को इस आदेश का पालन सुनिश्चित कराने के लिए नियमित रूप से निगरानी करनी होगी।  

ओवैसी ने जताया विरोध

यूपी के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य किए जाने पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ और बीजेपी को मुझे देशभक्ति का सर्टिफिकेट देने की जरूरत नहीं है। जब देश का स्वतंत्रता संग्राम लड़ा जा रहा था तब संघ परिवार नहीं था। अंग्रेजों के खिलाफ खड़े थे ये मदरसे। ओवैसी ने कहा कि 15 अगस्त और 26 जनवरी को सभी मदरसे देशभक्ति की बात करते हैं। मदरसों में देश प्रेम सिखाया जाता है। आप उन्हें शक की निगाह से देखते हैं, इसलिए ऐसे कानून बना रहे हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।