आगरा जेल में बंद विधायक विजय मिश्र की दुष्कर्म मामले में अदालत में पेशी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 30, 2021   17:07
आगरा जेल में बंद विधायक विजय मिश्र की दुष्कर्म मामले में अदालत में पेशी

भदोही जिले के ज्ञानपुर क्षेत्र से निषाद पार्टी के विधायक विजय मिश्र को शुक्रवार को सामूहिक दुष्कर्म के मामले में आगरा जेल से कड़ी सुरक्षा के बीच यहां मुख्‍य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट की अदालत में पेश किया गया। मिश्र 14 अगस्त, 2020 से ही कई आपराधिक मामलों में आगरा के जेल में बंद हैं।

भदोही (उत्तर प्रदेश)। भदोही जिले के ज्ञानपुर क्षेत्र से निषाद पार्टी के विधायक विजय मिश्र को शुक्रवार को सामूहिक दुष्कर्म के मामले में आगरा जेल से कड़ी सुरक्षा के बीच यहां मुख्‍य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट की अदालत में पेश किया गया। मिश्र 14 अगस्त, 2020 से ही कई आपराधिक मामलों में आगरा के जेल में बंद हैं। पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने बताया कि जेल में बंद विजय मिश्रा को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सबीहा खातून ने सामूहिक बलात्कार के मामले में व्यक्तिगत रूप से तलब किया था। उन्होंने बताया विजय मिश्रा को आज अदालत में पेश किया गया जिसमें मजिस्ट्रेट ने इस मामले में अगली तारीख 12 अगस्त निर्धारित की है।

इसे भी पढ़ें: जम्मू : अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास ड्रोन दिखने के बाद सुरक्षाबलों का तलाश अभियान

पुलिस अधीक्षक के मुताबिक विजय मिश्रा सहित उनके बेटे विष्णु मिश्रा और एक अन्‍य करीबी विकास मिश्रा पर वाराणसी की 25 साल की गायिका ने पिछले साल 18 अक्टूबर को मामला दर्ज कराया जिसमें उसने आरोप लगाया कि साल 2014 से 2016 के बीच विजय मिश्रा ने उसके साथ कई बार दुष्‍कर्म किया और विकास तथा विष्णु ने भी एक बार घर छोड़ने से पहले उसके साथ दुष्‍कर्म किया। इस मामले में आज विजय मिश्रा को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया और इसके बाद उनको कड़ी सुरक्षा में वापस आगरा जेल रवाना कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: सीआरपीएफ ने असम-मिजोरम के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग पर गश्त लगाना शुरू किया

पुलिस अधीक्षक के मुताबिक विधायक विजय मिश्रा, उनकी विधान परिषद सदस्‍य पत्नी राम लली मिश्रा, बेटे विष्णु मिश्रा के खिलाफ कृष्ण मोहन तिवारी ने चार अगस्त 2020 को जिले के गोपीगंज थाना में संपत्ति हड़पने, फर्म पर कब्ज़ा करने, बैंक चेकों पर ज़बरदती दस्तखत करने सहित कई गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। इस मामले में विजय मिश्रा को 14 अगस्त 2020 को मध्य प्रदेश के आगर जिले से गिरफ्तार किया गया है तब से वह आगरा की जेल में बंद है। जबकि उनकी पत्नी इसी मामले में अग्रिम जमानत पर है वहीं उनका बेटा अभी तक फरार है। उन्होंने बताया फरार विष्णु मिश्रा के खिलाफ पिछले वर्ष 30 अक्टूबर को लुकआउट नोटिस पुलिस ने जारी किया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।