अगले Lok Sabha elections में उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटें जीतनी हैं : भूपेंद्र सिंह चौधरी

Bhupendra Singh Chowdhary
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Common
चौधरी ने कहा, “2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की बाकी सीटों को जीतकर मिशन-2024 के 80 सीटों पर जीत के लक्ष्य को हासिल करते हुए प्रचंड बहुमत के साथ नरेंद्र भाई मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाने की प्रतिबद्धता पूर्ण करनी है।

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी ने रविवार को पिछले उपचुनावों में मिली हार-जीत की चर्चा के साथ ही कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में राज्य की सभी 80 सीटें जीतकर नरेन्द्र मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाना है। लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी की एक दिवसीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए चौधरी ने कहा, “बिना रुके, बिना थके परिश्रम की पराकाष्ठा करने वाले भाजपा के देवतुल्य कार्यकर्ताओं ने जहां प्रदेश में हुए उपचुनावों (आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा उपचुनाव, गोला गोकर्णनाथ और रामपुर विधानसभा उपचुनाव) में भाजपा को जिताने का काम किया, वहीं खतौली और मैनपुरी में मिली असफलताओं ने उन्हें यह संदेशभी दिया कि हमें मिलकर अभी ‘‘और परिश्रम, और ज्यादा परिश्रम’’ करने की जरूरत है।”

चौधरी ने कहा, “2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की बाकी सीटों को जीतकर मिशन-2024 के 80 सीटों पर जीत के लक्ष्य को हासिल करते हुए प्रचंड बहुमत के साथ नरेंद्र भाई मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाने की प्रतिबद्धता पूर्ण करनी है।” उन्‍होंने कहा, “यह लक्ष्य हम सब मिलकर पूरा करेंगे। आने वाले सभी चुनावों में हम भाजपा कार्यकर्ताओं के परिश्रम और जनता-जनार्दन के आशीर्वाद से निश्चित रूप से विजयी होंगे।” चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में नगर निकायों के चुनाव अब तक‍ संपन्न हो चुके होते, लेकिन विपक्षी दलों ने जिस तरह हथकंडे अपनाकर अड़ंगा लगाने का कुत्सित प्रयास किया, उससे आज निकाय प्रशासन तंत्र के अधीन चला गया है, लेकिन मुझे विश्वास है कि समाज के सभी वर्गों के हितों की चिंता करने वाली हमारी सरकार न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान करते हुए जल्द निकाय चुनाव कराएगी।

उन्होंने दावा किया कि अदालत की अनुमति के बाद जिस दिन निकाय चुनाव होंगे, भाजपा चुनाव को बाधित करने वाले दलों को जरूर पराजित करेगी। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा, “संसदीय उपचुनावों में कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम से हमने विपक्ष को आधारहीन किया और विधानसभा उपचुनाव तक में विपक्ष को यह बता दिया कि अब उनके लिए दिल्ली बहुत दूर है।” उन्होंने कहा, “हालांकि, तमाम सफलताओं के बीच हमने असफलता भी देखी है, लेकिन हम सभी जानते हैं कि पराजय का डर हमारे अंदर आता ही नहीं है, क्योंकि हमारी यात्रा के हर पड़ाव ने हम सभी को दोगुनी शक्ति हर बार दी है। हमारा विश्वास तो इस बात से बढ़ता है कि क्या हार में क्या जीत में, किंचित नहीं भयभीत हम, कर्तव्य पथ पर जो मिले यह भी सही, वह भी सही।” उन्होंने कहा कि इस सूत्र को लेकर हम सब अपने कर्तव्य पथ पर निरंतर गतिमान हैं और इसीलिये हमारा संगठन भी सतत प्रवाहमान है।

चौधरी ने कहा, “भारत को मिली जी-20 समूह और शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) जैसे प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय संगठनों की अध्यक्षता ने देश में इतिहास के एक नए अध्याय का सूत्रपात किया है। वहीं, दूसरी ओर उत्तर प्रदेश जैसे सबसे बड़े प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार निवेशकों को आमंत्रित करने के लिए तीसरा सम्मेलन करने को तैयार है।” बिना नाम लिए विपक्षी दलों पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में पिछड़ों के नाम पर राजनीति करके सत्ता प्राप्त करने वाले दलों के नेताओं ने अब तक सिर्फ अपने परिवार और अपने कुछ चहेतों का ही भला किया है, लेकिन जातियों की राजनीति करने वाले परिवारवादी दल ये भूल चुके हैं कि उत्तर प्रदेश की जनता अब चुनाव में जाति और भाई-भतीजावाद की राजनीति को नकार चुकी है। चौधरी ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की सराहना करते हुए कहा कि जगत प्रकाश नड्डा के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी नयी ऊंचाई छू रही है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़