आखिरी दिन नामांकन दाखिल करेंगे भाजपा प्रत्याशी, जानिए किस सीट से कौन भरेगा उम्मीदवारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 30, 2019   10:25
आखिरी दिन नामांकन दाखिल करेंगे भाजपा प्रत्याशी, जानिए किस सीट से कौन भरेगा उम्मीदवारी

भाजपा प्रदेश मुख्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सभी उपचुनाव के नामांकन में प्रदेश सरकार के मंत्री, प्रदेश पदाधिकारी, स्थानीय सांसद, विधायक, जिलों के पदाधिकारी प्रत्याशियों के साथ जाएंगे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा की 11 सीटों पर अगले माह होने वाले उपचुनाव के लिये भाजपा के सभी प्रत्याशी 30 सितम्बर को नामांकन भरेंगे। पार्टी ने उपचुनाव के लिये प्रतापगढ़ को छोड़कर 10 सीटों पर अपने प्रत्याशी रविवार को घोषित कर दिये। सोमवार नामांकन का अंतिम दिन है। भाजपा ने गंगोह सीट से कीरत सिंह, रामपुर से भारत भूषण गुप्ता, इगलास से राजकुमार सहयोगी, लखनऊ कैंट से सुरेश तिवारी, गोविंदनगर से सुरेन्द्र मैथानी, माणिकपुर से आनंद शुक्ला, जैदपुर से अम्बरीष रावत, जलालपुर से राजेश सिंह, बलहा से सरोज सोनकर तथा घोसी से विजय राजभर को उम्मीदवार बनाया है।

इसे भी पढ़ें: असम उपचुनाव: कांग्रेस के पूर्व विधायक और नए चेहरों के साथ मैदान में उतरी भाजपा

पार्टी प्रदेश मुख्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सभी उपचुनाव के नामांकन में प्रदेश सरकार के मंत्री, प्रदेश पदाधिकारी, स्थानीय सांसद, विधायक, जिलों के पदाधिकारी प्रत्याशियों के साथ जाएंगे। लखनऊ कैण्ट विधानसभा क्षेत्र के लिये पार्टी उम्मीदवार के नामांकन में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री आशुतोष टण्डन तथा प्रदेश महामंत्री विद्यासागर सोनकर मौजूद रहेंगे। सहारनपुर की गंगोह विधानसभा में कैबिनेट मंत्री सूर्य प्रताप शाही, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अशोक कटारिया, धर्म सिंह सैनी एवं विजय पाल सिंह तोमर रहेंगे। बाराबंकी की जैदपुर विधानसभा में कैबिनेट मंत्री श्रीकान्त शर्मा एवं प्रदेश महामंत्री गोबिन्द नारायण शुक्ला रहेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।