दिल्ली में 1 नवंबर से खुलेंगे सभी स्कूल, सार्वजनिक छठ पूजा की दी जाएगी अनुमति: मनीष सिसोदिया

दिल्ली में 1 नवंबर से खुलेंगे सभी स्कूल, सार्वजनिक छठ पूजा की दी जाएगी अनुमति: मनीष सिसोदिया

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि स्कूल 50 फीसदी से ज्यादा बच्चों को नहीं बुलाएगा। इसके अलावा स्कूल सुनिश्चित करेगा कि उनके पूरे स्टॉफ को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगी हो। आपको बता दें कि 1 नवंबर से दिल्ली के निजी और सरकारी स्कूल फिर से खुलेंगे।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि 1 नवंबर से दिल्ली के निजी और सरकारी स्कूल सभी कक्षाओं के लिए कुछ शर्तों के साथ खोलने का निर्णय लिया गया है। कोई भी स्कूल बच्चों को आने के लिए बाध्य नहीं कर सकता है। स्कूल सुनिश्चित करेंगे कि पढ़ाई ऑफलाइन और ऑनलाइन चले। 

इसे भी पढ़ें: बुजुर्गों को मुफ्त में अयोध्या के दर्शन कराएगी केजरीवाल सरकार, तीर्थ यात्रा के लिए जल्द शुरू होगा रजिस्ट्रेशन 

शर्तों के साथ खोले जाएंगे स्कूल 

उन्होंने कहा कि स्कूल 50 फीसदी से ज्यादा बच्चों को नहीं बुलाएगा। इसके अलावा स्कूल सुनिश्चित करेगा कि उनके पूरे स्टॉफ को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगी हो।  

इसे भी पढ़ें: दिल्ली वासियों को अयोध्या के मुफ्त दर्शन कराएगी केजरीवाल सरकार 

 छठ पूजा की होगी अनुमति

मनीष सिसोदिया ने कहा कि डीडीएमए की आज की बैठक में फैसला किया गया है कि दिल्ली में छठ पूजा की इजाजत दी जाएगी। लेकिन सरकार पहले से तय किए गए स्थानों पर सख्त कोरोना नियमों के साथ आयोजन करेगी। उन्होंने कहा कि इस त्योहार को बहुत अच्छे से और सावधानी से मनाने की जरूरत है। भगवान सबका कल्याण करें और छठमईयां सबको आशीर्वाद दें।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।