नाराज नीतीश को मनाने अमित शाह ने किया फोन! क्या इस फॉर्मूले से बच जाएगी बीजेपी-JDU की सरकार

Amit
creative common
अभिनय आकाश । Aug 08, 2022 10:19PM
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अमित शाह ने नीतीश कुमार को फोन किया। दोनों के बीच किन मुद्दों पर बातचीत हुई है यह अभी तक स्पष्ट रूप से सामने नहीं आया है।

बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के भीतर दरारें बड़ी होने के साथ ही बिहार की सियासत से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। मुख्यमंत्री और जनता दल-यूनाइटेड (जदयू) के नेता नीतीश कुमार और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बीच फोन पर बात हुई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अमित शाह ने नीतीश कुमार को फोन किया। दोनों के बीच किन मुद्दों पर बातचीत हुई है यह अभी तक स्पष्ट रूप से सामने नहीं आया है। लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नीतीश कुमार की नाराजगी दूर करने के लिए बिहार में बीजेपी की तरफ से कुछ कड़े कदम उठाए जा सकते हैं। नीतीश कुमार के एनडीए का साथ छोड़ महागठबंधन में जाने की खबरें आज पूरे दिन राजनीतिक फिजाओं में तैरती रही। इन सबके बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) जहां वेट एंड वॉच मोड में नजर आयी। वहीं जेडीयू ने मंगलवार को सुबह 11 बजे पार्टी विधायकों और सांसदों की बैठक बुलाई है। साथ ही विपक्ष की ओर से कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने अपने-अपने विधायकों को एक ही दिन चर्चा के लिए बुलाया है। जेडीयू, राजद और कांग्रेस के अपने अपने विधायकों की बुलाई गई बैठक के बाद से ही बिहार में नए सियासी समीकरण बनने की चर्चाओं को बल मिलने लगा।

इसे भी पढ़ें: बिहार में कौन सी खिचड़ी पक रही ? सोनिया-नीतीश की बातचीत का खंडन करने से कांग्रेस नेता का इनकार

क्या हटाये जाएंगे विजय कुमार सिन्हा

बिहार के विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा और नीतीश कुमार के बीच रिश्ते ठीक नहीं हैं। नीतीश कुमार चाहते हैं कि विजय कुमार सिन्हा को विधानसभा अध्यक्ष पद से हटाया जाए। वहीं अमित शाह और नीतीश कुमार की बातचीत के बाद इस बात की भी संभावना जताई जा रही है कि विजय सिन्हा को स्पीकर पद से हटाया जा सकता है। सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि बीजेपी स्पीकर का पद तो अपने पास ही रखेगी लेकिन जिस नाम से नीतीश को भी कोई ऐतराज न हो।

इसे भी पढ़ें: बिहार में नहीं आने देंगे अस्थिरता, मनोज झा बोले- जनता के निर्देश के अनुसार लिया जाएगा निर्णय

डिप्टी सीएम पर भी होगा फैसला?

बिहार में बीजेपी के कोटे से दो उपमुख्यमंत्री बनाये गए थे। लेकिन नीतीश को तारकिशोर चौधरी के काम करने के तरीके से भी ऐतराज है। कहा जाता है कि तारकिशोर सीधा दिल्ली को ही रिपोर्ट करते हैं। ऐसे में राजनीतिक फिजाओं में इस बात की भी चर्चा है कि डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद को भी हटाया जा सकता है। चर्चा तो शाहनवाज हुसैन के भी डिप्टी सीएम बनाये जाने की है। 

राजद विधायकों की जाएगी सदस्यता?

 खबर ये भी है कि राजद के 18 विधायकों की सदस्यता पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा के साथ विधानसभा में हुए दुर्व्यहार मामले में यह कार्रवाई हो सकती है। दरअसल विधानसभा अध्यक्ष के साथ दुर्व्यहार मामले में अनुशासन समिति ने रिपोर्ट विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा को सौंपी थी। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कहा जा रहा है कि इन विधायकों पर कार्रवाई की जा सकती है।

अन्य न्यूज़