अमित शाह का आरोप- भ्रष्टाचार, राजनीतिक हिंसा और घुसपैठ में बंगाल के विकास को किया तहस-नहस

अमित शाह का आरोप- भ्रष्टाचार, राजनीतिक हिंसा और घुसपैठ में बंगाल के विकास को किया तहस-नहस

अमित शाह ने आगे कहा कि एक समय बंगाल भारत में सबसे आगे था। यह शिक्षा, स्वतंत्रता सेनानियों, धार्मिक नेतृत्व और बहुत कुछ का केंद्र था। आज वही बंगाल गुंडाराज में उलझा हुआ है! मैं आज इस रैली में उपस्थित सभी आदिवासी भाइयों से कहना चाहता हूं कि आज एक संकल्प करके जाइये कि हमारे विकास में जो सरकार आड़े आ रही है, उसे हटाकर ही हम दम लेंगे।

पश्चिम बंगाल के झारग्राम में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह ने कहा कि बंगाल में 10 साल से TMC की सरकार ने बंगाल को पाताल तक नीचे ले जाने का काम किया है। हर चीज में भ्रष्टाचार, टोलबाजी, राजनीतिक हिंसा, घुसपैठ ने पूरे बंगाल के विकास को तहत-नहस कर दिया है। मोदी सरकार ने 10 साल के दीदी के शासन में 115 से ज़्यादा योजनाएं पहुंचाई, ये योजनाएं आप तक नहीं पहुंच रही हैं। इसका सबसे बड़ा रोड़ा तृणमूल की सरकार है। गृह मंत्री का यह संबोधन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए था।

अमित शाह ने आगे कहा कि एक समय बंगाल भारत में सबसे आगे था। यह शिक्षा, स्वतंत्रता सेनानियों, धार्मिक नेतृत्व और बहुत कुछ का केंद्र था। आज वही बंगाल गुंडाराज में उलझा हुआ है! मैं आज इस रैली में उपस्थित सभी आदिवासी भाइयों से कहना चाहता हूं कि आज एक संकल्प करके जाइये कि हमारे विकास में जो सरकार आड़े आ रही है, उसे हटाकर ही हम दम लेंगे। शाह ने वादा किया कि बंगाल में भाजपा की सरकार बनने के बाद हम झारग्राम में पंडित रघुनाथ मुर्मू आदिवासी विश्वविद्यालय बनाएंगे। आदिवासी जातियों के विकास के हम 100 करोड़ रुपये का एक कॉपर्स बनाएंगे। वहीं, पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि नंदीग्राम में एक बहुत बड़ा ऑटोमोबाइल उद्योग लाने की बात चल रही थी लेकिन यहां की सरकार ने उसे भगा दिया। यह सबसे ज्यादा रोजगार देने वाला उद्योग है। क्या इस विकास में बंगाल के नौजवानों को विकास करने का अधिकार नहीं है? गडकरी ने आगे कहा कि हमारे देश में ऑटोमोबाइल उद्योग 4.5 लाख करोड़ रुपये का है मैं कोशिश कर रहा हूं कि आने वाले 5 साल में यह उद्योग 10 लाख करोड़ रुपये का होगा। यहां कि सरकार ही ऐसी है कि विकास कार्यों में साथ नहीं देती है। मैं बंगाल में एक लाख करोड़ रूपये के राष्ट्रीय महामार्ग बनाकर दूंगा। 

टीएमसी के शासन में हत्या कर दिए गए भाजपा कार्यकर्ताओं के परिवारों के दर्द का क्या: शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हाल में चोट लगने की वजह से दर्द में हैं और उनके जल्द ठीक होने की कामना की, मगर सवाल किया कि क्या वह भाजपा के उन कार्यकर्ताओं के परिवारों का दर्द महसूस कर सकती हैं जिनकी हत्या पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के शासन के दौरान की गई। बांकुड़ा जिले के रानीबंध में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने वादा किया कि अगर भाजपा राज्य की सत्ता में आती है तो राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए सातवें वेतन आयोग को लागू किया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया, “ दीदी (बनर्जी) जब आपके के पैर में चोट लगी तो आपको दर्द हुआ। मैं कामना करता हूं कि आप जल्द ठीक हो जाएं। लेकिन 130 भाजपा कार्यकर्ताओं की मांओं के दर्द का क्या जिनकी हत्या टीएमसी के गुंडों ने की है। क्या आपने उनका दर्द कभी महसूस करने की कोशिश की?” शाह ने कहा, “ आपने कभी भी इन लोगों की पीड़ा महसूस नहीं की। वे विधानसभा चुनाव में वोट डालने के दौरान आपको मुंहतोड़ जबाव देंगे।” 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।