केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह 30 सितंबर से जम्मू और कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर आयेंगे

Amit Shah
ANI
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 30 सितंबर से जम्मू कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर आयेंगे। इस दौरान उनका दो रैलियों को संबोधित करने और विकास गतिविधियों की समीक्षा करने का कार्यक्रम है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक वरिष्ठ नेता ने शनिवार को यहां यह जानकारी दी।

श्रीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 30 सितंबर से जम्मू कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर आयेंगे। इस दौरान उनका दो रैलियों को संबोधित करने और विकास गतिविधियों की समीक्षा करने का कार्यक्रम है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक वरिष्ठ नेता ने शनिवार को यहां यह जानकारी दी। भाजपा की जम्मू-कश्मीर इकाई के महासचिव एवं पूर्व मंत्री सुनील शर्मा ने हालांकि कहा कि इस दौरे को विधानसभा चुनाव से नहीं जोड़ा जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: मथुरा से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी कंगना रनौत? जानिए राखी सावंत का नाम लेते हुए हेमा मालिनी ने क्या कहा

शर्मा ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘चुनाव ईसीआई (भारत निर्वाचन आयोग) का विशेषाधिकार है जो एक स्वायत्त संस्था है और चुनाव के समय और तिथियों के बारे में उसे (ईसीआई) फैसला करना है। भाजपा तैयार है। यह (शाह का दौरा) एक नियमित दौरा है और इसे चुनाव से जोड़ना ठीक नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि शाह 30 सितंबर को जम्मू पहुंचेंगे, एक अक्टूबर को राजौरी (जम्मू संभाग) में एक रैली को संबोधित करेंगे और उसी शाम कश्मीर पहुंचेंगे और फिर दो अक्टूबर को पूर्वाह्न 11 बजे बारामूला शहर में एक रैली को संबोधित करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा और केंद्र सरकार से पूरे कश्मीर के लोगों की कई उम्मीदें हैं।’’ शर्मा ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार पर हर व्यक्ति का विश्वास है। उस विश्वास पर खरा उतरने, उन अपेक्षाओं को पूरा करने और केन्द्र शासित प्रदेश के प्रशासन की विकास गतिविधियों का आकलन करने के लिए केंद्रीय मंत्री 30 सितंबर को जम्मू-कश्मीर पहुंचेंगे।’’ उन्होंने कहा कि पूरे कश्मीर, खासकर उत्तरी कश्मीर के लोग रैली में शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि इसमें दक्षिण कश्मीर के लोग भी शामिल होंगे। भाजपा नेता ने कहा कि शाह के दौरे के दौरान कई अन्य आधिकारिक कार्यक्रम होंगे, लेकिन उन्होंने इसका विवरण साझा करने से इनकार कर दिया।

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि त्योहार के शुभ मुहूर्त से लेकर घटस्थापना की विधि तक जानिए हर महत्वपूर्ण बातें

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन जहां तक पार्टी के कार्यक्रमों का सवाल है, तो पार्टी के हर वर्ग के प्रतिनिधिमंडल या यहां तक कि उद्योगपति, बुद्धिजीवी भी उनसे मिल सकते हैं। पार्टी की गतिविधियों पर वरिष्ठ नेताओं के साथ भी चर्चा की जाएगी।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या शाह यहां शहर के ईदगाह इलाके में प्रस्तावित कैंसर अस्पताल की आधारशिला रखेंगे, शर्मा ने कहा कि पार्टी के पास जो जानकारी है, उसके अनुसार विकास गतिविधियों पर एक दौर चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘शायद, कैंसर अस्पताल की आधारशिला भी रखी जाएगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़