पंजाब में अमृतसर ईस्ट बना सबसे हॉट सीट, अकाली दल ने सिद्धू के खिलाफ मजीठिया को उतारा

bikram majithia
अंकित सिंह । Jan 27, 2022 1:21PM
नवजोत सिंह सिद्धू भी लगातार विक्रम मजीठिया के खिलाफ हमलावर रहे हैं। अमृतसर ईस्ट सीट से नवजोत सिंह सिद्धू ने 2017 में चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी। उन्हें 60.68% वोट मिले थे। 2012 के विधानसभा चुनाव में नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी बीजेपी की चंबल पर चुनावी मैदान में थी और जीत हासिल की थी।

पंजाब में विधानसभा चुनाव को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार जारी है। इन सबके बीच पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ अकाली दल ने बिक्रम सिंह मजीठिया को चुनावी मैदान में उतारने का ऐलान कर दिया है। शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने घोषणा की है कि पार्टी के वरिष्ठ नेता बिक्रम सिंह मजीठिया नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ अमृतसर ईस्ट से चुनाव लड़ेंगे। सुखबीर बादल के इस ऐलान के साथ ही पंजाब चुनाव में अमृतसर लिस्ट हॉट सीट बन गया है। अकाली दल प्रमुख ने अमृतसर ईस्ट से सिद्धू की जमानत जप्त कराने का भी दावा किया है। आपको बता दें कि पंजाब कांग्रेस बिक्रम मजीठिया के खिलाफ लगातार हमलावर रहती हैं। बिक्रम मजीठिया के खिलाफ एनडीपीएस अधिनियम के तहत पिछले महीने मुकदमे भी दर्ज किए गए थे।

नवजोत सिंह सिद्धू भी लगातार विक्रम मजीठिया के खिलाफ हमलावर रहे हैं। अमृतसर ईस्ट सीट से नवजोत सिंह सिद्धू ने 2017 में चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी। उन्हें 60.68% वोट मिले थे। 2012 के विधानसभा चुनाव में नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी बीजेपी की चंबल पर चुनावी मैदान में थी और जीत हासिल की थी। कुल मिलाकर देखें तो पंजाब के अमृतसर ईस्ट सीट फिलहाल चर्चित सीट बन गई है। पंजाब के दो दिग्गज नेता आमने-सामने होंगे। इसके साथ ही यह चुनाव बेहद अहम रहने वाला है क्योंकि सिद्धू या मजीठिया में से जो भी हारेगा, उसकी यह पहली राजनीतिक हार होगी। बादल ने पंजाब कांग्रेस प्रमुख सिद्धू को चुनौती देने की मुद्रा में कहा, ‘‘नवजोत सिद्धू, तैयार हो जाइए।’’ 

इसे भी पढ़ें: अमरिंदर सिंह ने सिद्धू को लेकर किया बड़ा खुलासा, इमरान ने की थी मंत्रिमंडल में शामिल करने की सिफारिश, भाजपा ने कही यह बात

सिद्धू लगातार मजीठिया पर ड्रग्स तस्करी का भी आरोप लगाते रहते हैं और उन पर कार्रवाई को लेकर अभियान भी चला रहे हैं। इसके अलावा सुखबीर बादल ने अपने पिता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के भी चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। प्रकाश सिंह बादल एक बार फिर से लांबी सीट से चुनावी मैदान में होंगे। 20 फरवरी को होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव में बादल संभावित सबसे उम्रदराज उम्मीदवार होंगे। दूसरी ओर अमृतसर इससे उम्मीदवार बनाए जाने को लेकर मजीठिया ने सुखबीर बादल का आभार व्यक्त किया है। मजीठिया ने अपने ट्वीट में लिखा कि अकालियों का पंजाबियों के अधिकारों की रक्षा करने और उन्हें ‘सिद्धू’ जैसे पंजाब-विरोधी तत्वों से संरक्षित करने का साहसिक इतिहास रहा है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़