वैष्णो देवी से कन्याकुमारी तक का रोड ट्रिप करना चाहते हैं आनंद महिंद्रा, PM मोदी से की यह खास अपील

वैष्णो देवी से कन्याकुमारी तक का रोड ट्रिप करना चाहते हैं आनंद महिंद्रा, PM मोदी से की यह खास अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इसी वक्तव्य को लेकर आनंद महिंद्रा ने एक शानदार ट्वीट किया है। प्रधानमंत्री के इस ऐलान पर आनंद महिंद्रा ने लिखा कि हां इसे जल्द से जल्द पूरा करें। इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि वे जम्मू कश्मीर से वैष्णो देवी से सीधे कन्याकुमारी तक की सड़क की यात्रा करना चाहते हैं।

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा सोशल मीडिया पर खूब सक्रिय रहते हैं। देश-दुनिया की तमाम मसलों पर भी अपनी राय रखते हैं। साथ ही साथ कई बार दिलचस्प किस्से-कहानियां भी साझा करते हैं। इन सबके बीच आनंद महिंद्रा ने एक रोड ट्रिप की इच्छा जता दी है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को जम्मू कश्मीर के दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने रोड कनेक्टिविटी को लेकर बात की थी। प्रधानमंत्री ने कहा था कि अब वह दिन दूर नहीं है जब कन्याकुमारी से वैष्णो देवी तक की सीधी सड़क होगी और आप यात्रा कर सकेंगे। मोदी ने कहा था कि उनकी सरकार का लक्ष्य हर मौसम में जम्मू-कश्मीर को कनेक्टिविटी देना है और इस पर हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इसी वक्तव्य को लेकर आनंद महिंद्रा ने एक शानदार ट्वीट किया है। प्रधानमंत्री के इस ऐलान पर आनंद महिंद्रा ने लिखा कि हां इसे जल्द से जल्द पूरा करें। इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि वे जम्मू कश्मीर से वैष्णो देवी से सीधे कन्याकुमारी तक की सड़क की यात्रा करना चाहते हैं। यह रोड ट्रिप उनकी ख्वाहिश की लिस्ट में सबसे ऊपर होगी। आनंद महिंद्रा के इस ट्वीट को लेकर अब लोगों की प्रतिक्रियाएं भी आने लगी है। लोग आनंद महिंद्रा की वाहवाही कर रहे हैं। साथ ही साथ उनके इस ट्रिप के जल्द पूरा होने की कामना भी कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: सिर्फ नकारात्मक नहीं, सकारात्मक भी देखिए, बिना रुके झुके बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा भारत

एक यूजर ने तो यह तक लिख दिया कि अगर महिंद्रा द्वारा बनाई गई ई-बाइक से यह रोड ट्रिप हो तो और मजेदार रहेगा। मोदी ने कहा था कि जब मैं ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के बारे में बात करता हूं, तो हमारा ध्यान दूरियों को कम करने और संपर्क पर होता है। हमारा लक्ष्य जम्मू-कश्मीर को 12 महीने संपर्क मुहैया कराना है। वह दिन दूर नहीं जब कन्याकुमारी देवी एक ही सड़क से वैष्णो देवी से मिलेंगी। उन्होंने कहा कि दूरियां, फिर चाहे वह दिलों की हों, की हों, रिवाज या संसाधन की हों, उन्हें खत्म करना आज हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।