महाश्मशान मंदिर के आसपास जल जमाव से स्थानीय लोगों में रोष

महाश्मशान मंदिर के आसपास जल जमाव से स्थानीय लोगों में रोष

वाराणसी स्थित मणिकर्णिका घाट पर स्थित महाश्मशान मंदिर के आसपास कल रात तेज बारिश की वजह से मंदिर के आसपास काफी पानी इकट्ठा हो गया है जिससे आरती और पूजा प्रभावित हो रही है जल जमाव के कारण स्थानीय लोगों के साथ साथ श्रद्धालुओं में काफी रोष देखा गया।

वाराणसी स्थित मणिकर्णिका घाट पर स्थित महाश्मशान मंदिर में बारिश का गंदा पानी बढ़ता जा रहा है जिससे मंदिर में पूजा आरती प्रभावित हो रही है बताया जा रहा है कि विश्वनाथ कॉरिडोर के कार्य की लापरवाही से मलबा इकट्ठा होने से बारिश का गंदा पानी जम रहा है इससे स्थानीय लोगों पुजारी और श्रद्धालुओं में रोष है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर के कार्य में लापरवाही के चलते बाबा महाश्मशान के गर्भ गृह तक बरसात का गंदा पानी जमा हो जा रहा है। 

इसे भी पढ़ें: 'मिशन उत्तर प्रदेश' को लेकर केशव प्रसाद मौर्य का दावा, भाजपा 325 से अधिक सीट जीतेगी

दरअसल, महाश्मशान मंदिर के क्षेत्र का हिस्सा कॉरिडोर निर्माण के अंदर आता है। कल रात हुई तेज बारिश के बाद महाश्मशान मंदिर में बरसात का गंदा पानी जमा हो गया। गंदा पानी बाबा के गर्भगृह में भी जाकर इकट्ठा हो जा रहा, जिससे श्रद्धालुओं में रोष व्याप्त है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि मंदिर के आगे कॉरिडोर के कार्य में लापरवाही बरती जा रही है, जिससे गंदा पानी आगे ना जाकर उल्टा मंदिर में चला जा रहा है। इससे मंदिर की आरती पूजा प्रभावित हो रही है व भक्त काफी परेशान हो जा रहे हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।