Artemis-1 Launch: इंजन 3 में आई खराबी, नासा के सबसे शक्तिशाली रॉकेट का लॉन्च टल गया

NASA
creative common
अभिनय आकाश । Aug 29, 2022 7:18PM
काउंटडाउन क्लॉक को T-40 मिनट पर रोक दिया गया। ये इस बात पर निर्भर करता है कि आज के असफल प्रयास की समस्या का निपटारा हो जाने के बाद लॉन्च के लिए अगला उपलब्ध अवसर 2 सितंबर का रखा गया है।

स्पेस लॉन्च सिस्टम (एसएलएस) रॉकेट पर आरएस-25 इंजन में खराबी के कारण नासा के आर्टेमिस 1 लॉन्च को स्थगित कर दिया गया है। लॉन्च से पहले इंजन को लिक्विड हाइड्रोजन और ऑक्सीजन के साथ कंडीशन किया जाना था, लेकिन टीम के इंजीनियरों ने देखा कि इंजन में रिसाव हो रहा है। जिसके बाद इसे काउंटडाउन को रोक दिया गया। काउंटडाउन क्लॉक को T-40 मिनट पर रोक दिया गया। ये इस बात पर निर्भर करता है कि आज के असफल प्रयास की समस्या का निपटारा हो जाने के बाद लॉन्च के लिए अगला उपलब्ध अवसर 2 सितंबर का रखा गया है। 

इसे भी पढ़ें: Artemis 1 Launch: चांद पर 50 साल बाद फिर इंसान, NASA का सबसे शक्तिशाली रॉकेट आज अतंरिक्ष के लिए भरेगा उड़ान

अर्टेमिस 1 अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का मार्स पर्सिवरेंस रोवर के बाद बेहद महत्वपूर्ण मिशन है। नासा स्पेस लॉन्च सिस्टम रॉकेट के जरिए ओरियन स्पेसशिप को चांद के चारों तरफ चक्कर लगाकर वापस आने के लिए भेज रहा है। ताकि साल 2025 में इंसानों को चंद्रमा की सतह पर उतारने के लिए अर्टेमिस मिशन का अगला हिस्सा भेजा जा सके। लेकिन फिलहाल आज के लॉन्च में देरी की आशंका जताई जा रही है। 

इसे भी पढ़ें: आकाशीय बिजली की घटना के बावजूद नासा का ‘मून रॉकेट’ रवाना होने को तैयार

ये इस रॉकेट का पहला मिशन है जिसमें कोई अंतरिक्ष यात्री सवार नहीं होगा। लेकिन यदि ये मिशन कामयाब रहता है तो, भविष्य में इस रॉकेट से अंतरिक्ष यात्री भी मिशन पर जा सकेंगे। यदि सबकुछ ठीक रहा तो इंसान 2024 से एक बार फिर चांद पर क़दम डाल सकेगा। आर्टेमिस नासा के लिए एक अहम मिशन है।  इस साल दिसंबर में नासा अपोलो 17 के चांद पर पहुंचने के 50 साल पूरे करेगा। ये आख़िरी बार था जब मनुष्य चांद पर गया था। 

अन्य न्यूज़