कश्मीर के लिए अनुच्छेद 370 सबसे बड़ा अवरोधक: राम माधव

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 23 2019 7:38AM
कश्मीर के लिए अनुच्छेद 370 सबसे बड़ा अवरोधक: राम माधव
Image Source: Google

उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के कारण नहीं, जम्मू-कश्मीर के भारत के साथ आने के पत्र (इंस्ट्रूमेंट ऑफ एक्सेशन) पर दस्तखत के दिन ही कश्मीर भारत का अखंड हिस्सा बन गया।

नयी दिल्ली। भाजपा के महासचिव राम माधव ने बुधवार को कहा कि कश्मीर को बाकी देश के साथ भावनात्मक तौर पर जोड़ने की राह में अनुच्छेद 370 सबसे बड़ा अवरोधक है। उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे को अलग-थलग विषय के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर में स्थिति को संभालने की प्रक्रिया में जम्मू और लद्दाख बलि के बकरे बन गए हैं।’’ जम्मू-कश्मीर मामलों के भाजपा प्रभारी माधव पत्रकार संध्या जैन की किताब ‘जे एंड के इनविजिबल फॉल्टलाइन्स’ के विमोचन के मौके पर संबोधित कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: राम माधव के आकलन को राव ने किया खारिज, कहा- राजग की सीटों की संख्या 300 के पार होंगी

उन्होंने कहा कि घाटी के उन लोगों की हिफाजत होनी चाहिए जो भारत समर्थक भावनाएं रखते हैं। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के कारण नहीं, जम्मू-कश्मीर के भारत के साथ आने के पत्र (इंस्ट्रूमेंट ऑफ एक्सेशन) पर दस्तखत के दिन ही कश्मीर भारत का अखंड हिस्सा बन गया।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के लिए 280 के आंकड़े पर पहुंचना मुश्किल दिख रहा है: शिवसेना



माधव ने कहा कि कश्मीर के भारत से जुड़ने की वजह अनुच्छेद 370 नहीं है। कश्मीर के कुछ नेता देश में इस तरह की भ्रांति फैला रहे हैं। बाकी देश के साथ कश्मीर के भावनात्मक जुड़ाव में अनुच्छेद 370 सबसे बड़ा बाधक है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video