महंत नरेंद्र गिरी के उत्तराधिकारी होंगे बलबीर गिरी, निरंजनी अखाड़े के पंचों की बैठक के बाद हुआ ऐलान

महंत नरेंद्र गिरी के उत्तराधिकारी होंगे बलबीर गिरी, निरंजनी अखाड़े के पंचों की बैठक के बाद हुआ ऐलान

निरंजनी अखाड़े के पंचों की बैठक में बलबीर गिरी को उत्तराधिकारी बनाने का निर्णय लिया गया है। गौरतलब है कि अखिल भारतीय अखाड़ परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

नयी दिल्ली। अखिल भारतीय अखाड़ परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी के निधन के बाद बलबीर गिरी को उनका उत्तराधिकारी घोषित कर दिया गया है। इसी के साथ ही बलबीर गिरी अब बाघंबरी मठ के महंत होंगे। आपको बता दें कि महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशनंद गिरी ने घोषणा की कि बलबीर गिरी महंत नरेंद्र गिरी के उत्तराधिकारी होंगे। 

इसे भी पढ़ें: महंत नरेंद्र गिरी की घटना में सबसे पहले कैसे पहुंच गए आईजी के पी सिंह? 

निरंजनी अखाड़े के पंचों की बैठक में बलबीर गिरी को उत्तराधिकारी बनाने का निर्णय लिया गया है। गौरतलब है कि अखिल भारतीय अखाड़ परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। हालांकि बाद में 8 पन्नों का सुसाइड नोट भी सामने आया था। जिसके आधार पर पुलिस ने आनंद गिरी, अद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी को गिरफ्तार कर लिया था। 

इसे भी पढ़ें: हरिद्वार में पिछले 20 सालों में 24 साधुओं की हुई हत्या या हो गए लापता, की गुत्थी आज तक बनी हुई रहस्य 

8 पेज का सुसाइड नोट आया सामने

सुसाइड नोट में महंत नरेंद्र गिरी ने आत्महत्या करने का निर्णय लिया। कथित सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरी मौत की जिम्मेदारी आनंद गिरी, अद्या प्रसाद तिवारी, संदीप तिवारी की होगी। प्रयागराज के सभी पुलिस अधिकारी एवं प्रशासनिक अधिकारियों से अनुरोध करता हूं। मेरे आत्महत्या के जिम्मेदार उपरोक्त लोगों पर कानूनी कार्यवाही की जाए, जिससे मेरी आत्मा को शांति मिले।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।