भारत बंद के चलते मुंबई में रोकी गईं कई ट्रेनें, ठाणे में कोई असर नहीं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 29, 2020   13:17
भारत बंद के चलते मुंबई में रोकी गईं कई ट्रेनें, ठाणे में कोई असर नहीं

सीएए और राष्ट्रीय नागरिक पंजी के खिलाफ कुछ संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के तहत कांजुरमार्ग स्टेशन पर पटरियों पर विरोध प्रदर्शन के कारण बुधवार सुबह मुंबई में मध्य रेलवे की उपनगरीय रेल सेवाएं कुछ हद तक प्रभावित हुईं। एक अधिकारी ने बताया कि व्यवधान के कारण सीआर लाइन पर ट्रेनें 10-15 मिनट देरी से चल रही हैं।

मुंबई। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ कुछ संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के तहत कांजुरमार्ग स्टेशन पर पटरियों पर विरोध प्रदर्शन के कारण बुधवार सुबह मुंबई में मध्य रेलवे (सीआर) की उपनगरीय रेल सेवाएं कुछ हद तक प्रभावित हुईं। पुलिस ने बताया कि कम से कम 100 प्रदर्शनकारी सुबह आठ बजे रेलवे स्टेशन की पटरियों पर जमा हो गए और सीएसएमटी की ओर जाने वाली धीमी गति की कई ट्रेनों को रोक दिया।

इसे भी पढ़ें: नागरिकता कानून पर केरल विधानसभा में हंगामा, विधायकों ने रोका गवर्नर का रास्ता

प्रदर्शनकारियों ने नारे लगाए और राष्ट्रीय ध्वज लहराया। बाद में प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने वहां से हटा दिया और हिरासत में ले लिया। एक अधिकारी ने बताया कि व्यवधान के कारण सीआर लाइन पर ट्रेनें 10-15 मिनट देरी से चल रही हैं। सीआर के मुख्य पीआरओ शिवाजी सुतार ने कहा, ‘‘हम लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे ट्रेनों को न रोकें और उपनगरीय ट्रेनों के सुगम संचालन के लिए हमारा सहयोग करें।’’

इसे भी पढ़ें: अमित शाह ने राहुल गांधी पर साधा निशाना, कहा- भ्रम फैला रहे हैं और लोगों को डरा रहे हैं

बहुजन क्रांति मोर्चा सहित कई संगठनों ने हाल ही में पारित सीएए और प्रस्तावित एनआरसी के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया है। इस बीच, ठाणे शहर और आसपास के क्षेत्रों में बंद का कोई असर नहीं देखा गया। पुलिस नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने कहा कि ठाणे में सार्वजनिक परिवहन सेवाएं सामान्य रूप से जारी हैं और दुकानें और शैक्षणिक संस्थान खुले हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्थानों पर पुलिसकर्मी तैनात हैं।

इसे भी देखें: Congress के Bharat Bandh को समर्थन देने पहुँचे लोगों ने Modi सरकार को सुनाई खरी खरी





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...