भाजपा सरकार ने पंचायती राज संस्थाओं को खोखला किया: सचिन पायलट

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Sep 4 2018 6:47PM
भाजपा सरकार ने पंचायती राज संस्थाओं को खोखला किया: सचिन पायलट

पायलट ने यहां सरपंच व पंचायती राज प्रतिनिधि महासम्मेलन को सम्बोधित करते हुए प्रदेश की वसुंधरा राजे सरकार पर सरपंचों के शोषण करने और उपचुनावों में सरपंचों को जांच खोलने की धमकियां देने का आरोप लगाया।



जयपुर। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने राज्य की भाजपा सरकार पर बीते पौने पांच साल में पंचायती राज संस्थाओं को खोखला करने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को कहा कि सत्ता में लौटने पर कांग्रेस इस संस्थान को फिर मजबूत बनायेगी। पायलट ने यहां सरपंच व पंचायती राज प्रतिनिधि महासम्मेलन को सम्बोधित करते हुए प्रदेश की वसुंधरा राजे सरकार पर सरपंचों के शोषण करने और उपचुनावों में सरपंचों को जांच खोलने की धमकियां देने का आरोप लगाया।

 
उन्होंने भाजपा सरकार द्वारा पंचायती राज संस्थाओं में प्रत्याशियों के लिए शैक्षणिक योग्यता संबंधी अध्यादेश का उल्लेख करते हुए कहा कि कांग्रेस भी चाहती है कि पढे लिखे लोग राजनीति में आये लेकिन इस अध्यादेश से महिलाओं, गरीबों, दलितों, पिछडे वर्ग व किसान वर्ग के लोगों के लिए राजनीति में आने के दरवाजे बंद कर दिए गए। उन्होंने प्रदेशभर से आये सरपंचों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि ' आप लोग कांग्रेस सरकार बनने का इंतजार करो.....कांग्रेस की सरकार बनेगी और इस शैक्षणिक मापदंड को खत्म करने वाले है। 
 
इस अवसर पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री ने 500 रूपये का मानदेय बढाने की घोषणा की यह वास्तव में सरपंचों का सम्मान है या उनको अपमानित करने की घोषणा की है।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Related Story

Related Video