भाजपा सरकार को सत्ता का दंभ छोड़कर परिवार की तरह सोचना चाहिए : अखिलेश यादव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 26, 2021   16:03
भाजपा सरकार को सत्ता का दंभ छोड़कर परिवार की तरह सोचना चाहिए : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष और उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कहा, भाजपा सरकार को सत्ता का दम्भ छोड़कर एक परिवार वाले की तरह सोचना चाहिए और उसे तत्काल कोरोना पीड़ितों के घरों पर भी आक्सीजन का इंतजाम करना चाहिए।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष और उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कहा, भाजपा सरकार को सत्ता का दम्भ छोड़कर एक परिवार वाले की तरह सोचना चाहिए और उसे तत्काल कोरोना पीड़ितों के घरों पर भी आक्सीजन का इंतजाम करना चाहिए। सोमवार को सपा मुख्यालय से जारी एक बयान में पूर्व मुख्यमंत्री ने कोविड-19 टीका के दामों में एकरूपता और देश भर मेंमुफ्त टीकाकरण की व्यवस्था की मांग की।

इसे भी पढ़ें: मिजोरम के जंगलों में लगी भीषण आग शहर तक पहुंची, PM मोदी ने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया

यादव ने आरोप लगाया कि काला बाजारियों पर लगाम लगाने में सरकार की विफलता उजागर है और संक्रमितों के इलाज के लिए जिन अस्पतालों और डॉक्टरों के नाम और टेलीफोन नम्बर भाजपा सरकार प्रचारित कर रही है वे अधिकांश फर्जी निकल रहे हैं। उनका कहना था कि इसी झूठ के सहारे मुख्यमंत्री अपनी कमियां छुपा रहे हैं जबकि जमीनी हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। उन्होंने कहा, पीड़ित परिवारों के आंसू सूख गए हैं और सरकार की आंख का पानी मर गया है] लोकतंत्र में भाजपा सरकार अभिशाप बन गई है। उन्होंने समाजवादी पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से कोरोना वायरस संक्रमण के दौर में लोगों की हर संभव मदद करने की अपील की है। यादव ने कहा कि दूरदर्शिता की कमी और कुप्रबंधन से भाजपा ने उत्तर प्रदेश को कोरोना प्रदेश बना दिया है। सपा प्रमुख ने दावा किया, एक ओर सरकार मृतकों की संख्या कमतर दिखाने को फर्जी आंकड़े दे रही है दूसरी तरफ श्मशान में चिताएं बुझने का नाम नहीं ले रही हैं।

इसे भी पढ़ें: मिजोरम के जंगलों में लगी भीषण आग शहर तक पहुंची, PM मोदी ने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया

ऑक्सीजन, बेड, दवा न मिलने से सांसों का आपातकाल है। उन्होंने कहा, मुख्यमंत्रीके बयान जो हों लेकिन भाजपा विधायक और सांसद तक हालात से परेशान होकर धरना देने की चेतावनी दे रहे हैं, यह सरकार की नाकामी नहीं तो क्या है। उन्होंने कहा कि इस अक्षम और अयोग्य सरकार को सत्ता में रहने का नैतिक अधिकार नहीं है, भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री का यह लापरवाही भरा कार्य मानवीय भूल नहीं अपराध है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।