राजनीतिक लाभ के लिये सरकारी तंत्र का गलत इस्तेमाल कर रही है भाजपा: मायावती

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 15 2019 5:40PM
राजनीतिक लाभ के लिये सरकारी तंत्र का गलत इस्तेमाल कर रही है भाजपा: मायावती
Image Source: Google

भाजपा के राष्ट्रवाद को मिथ्याप्रचार करार देते हुए मायावती ने कहा कि मोदी दावा करते हैं कि देश की सीमाएं पहले कभी इतनी सुरक्षित नहीं थीं, जितनी कि आज हैं, मगर सच्चाई यह है कि देश की सरहदों की हालत किसी से छुपी नहीं है।

अलीगढ़। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने सोमवार को भाजपा पर मौजूदा लोकसभा चुनावों में अपने राजनीतिक हित साधने के लिये सरकारी ताकत का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। मायावती ने यहां एक चुनावी जनसभा में आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ भाजपा लोकसभा चुनाव जीतने के लिये अपनी ताकत का दुरुपयोग कर रही है। खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों पर हमले के लिये सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की मदद ले रहे हैं। यह एक खतरनाक चलन है। साथ ही यह मोदी द्वारा अपनायी जा रही निचले दर्जे की सियासत की एक और मिसाल है। प्रधानमंत्री द्वारा देश में जगह—जगह दिये जा रहे भाषण देश में राजनीति का एक नया रसातल दिखा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: किसानों, दलितों और आदिवासियों से भेदभाव करती है मोदी सरकार: मायावती

भाजपा के राष्ट्रवाद को मिथ्याप्रचार करार देते हुए उन्होंने कहा कि मोदी दावा करते हैं कि देश की सीमाएं पहले कभी इतनी सुरक्षित नहीं थीं, जितनी कि आज हैं, मगर सच्चाई यह है कि देश की सरहदों की हालत किसी से छुपी नहीं है। मायावती ने दावा किया कि पिछले पांच साल के दौरान देश में अल्पसंख्यकों और हाशिये पर खड़े लोगों की हालत बद से बदतर हुई है। बसपा प्रमुख ने कांग्रेस को भी नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि यह पार्टी भी भाजपा के जैसी ही नीतियों का पालन करती है। ये दोनों ही पार्टियां मुसलमानों और दलितों की कीमत पर धन्नासेठों के हितों को तरजीह देती हैं।
बसपा के गठबंधन के सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल के नेता चौधरी अजित सिंह ने इस मौके पर आरोप लगाया कि पिछले पांच वर्षों के दौरान देश में विभिन्न लोकतांत्रिक संस्थाओं की स्थिति तेजी से खराब हुई है। अगर भाजपा एक बार फिर सत्ता में आयी तो लोगों से वोट करने का अधिकार छीन लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा की लोकतंत्र में कोई आस्था नहीं है।


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video