2 फरवरी को BJP शाहीन बाग और जामिया में कर रही बड़े बवाल की तैयारी: AAP

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 31, 2020   20:49
2 फरवरी को BJP शाहीन बाग और जामिया में कर रही बड़े बवाल की तैयारी: AAP

आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को दावा किया कि भाजपा दो फरवरी को दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया मिल्लिया इस्लामिया में एक बड़े बवाल की योजना बना रही है, जहां सीएए विरोधी प्रदर्शन जारी हैं। आप ने साथ ही चुनाव आयोग से जरूरी कदम उठाने के लिए कहा।

नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को दावा किया कि भाजपा दो फरवरी को दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया मिल्लिया इस्लामिया में एक बड़े बवाल की योजना बना रही है, जहां सीएए विरोधी प्रदर्शन जारी हैं। आप ने साथ ही चुनाव आयोग से जरूरी कदम उठाने के लिए कहा। हालांकि, दिल्ली भाजपा के मीडिया प्रभारी अशोक गोयल ने इस दावे को “बेतुका” बताते हुए खारिज किया है। वरिष्ठ आप नेता संजय सिंह ने यहां संवाददाताओं से दावा किया कि उनके पास सबूत है और वह चुनाव आयोग से इस संबंध में बात करेंगे। उन्होंने कहा, “मेरे पास सबूत है। व्हॉट्सऐप पर कई मैसेज और वीडियो घूम रहे हैं। हम सबूत के साथ चुनाव आयोग के पास जाने की तैयारी कर रहे हैं।” 

इसे भी पढ़ें: CM योगी का था आदेश, किसी भी बच्चे को नहीं आनी चाहिए खरोंच

आप नेता ने आरोप लगाया, “दिल्ली पुलिस के हाथ अमित शाह ने बांधे हैं। शाह के पदभार संभालने के बाद दिल्ली में कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हुई है। अब वे दो फरवरी को शाहीन बाग और जामिया मिल्लिया इस्लामिया में कुछ बड़ा करने की योजना बना रहे हैं। मैं दिल्ली के लोगों और चुनाव आयोग को आगाह करना चाहता हूं।” इस आरोप के जवाब में गोयल ने कहा कि आप दिल्ली चुनाव में हार पक्की होने से बेचैन है और “बेतुके” बयान दे रही है।

इसे भी देखें: AAP और Congress पर बरसे Chhattarpur से BJP उम्मीदवार Brahm Singh Tanwar





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...