बीजेपी नेता ने कहा- ISIS के शैतानों का गढ़ बना दिल्ली का शाहिन बाग

बीजेपी नेता ने कहा- ISIS के शैतानों का गढ़ बना दिल्ली का शाहिन बाग

पहले शाहिन बाग को दूसरा पाकिस्तान कहा जा रहा था अब बीजेपी के नेता ने शाहिन बाग की तुलना ISIS के गढ़ से कर दी हैं। बीजेपी के सहप्रभारी तरुण चुघ ने जुबान पर बिना लगाम लगाए शाहिन बाग पर विवादित दे दिया।

दिल्ली विधानसभा के चुनाव का केंद्र बना शाहीन बाग हर नेता की जुबान पर चढ़ गया है। बीजेपी, कांग्रेस, आप सहित सभी राजनीतिक दल लगातार अपना-अपना पक्ष रख रहे हैं। बीजेपी शाहीन बाग को बनाने के पीछे कांग्रेस और आप को जिम्मेदार ठहरा रही हैं वहीं आम आदमी पार्टी मोदी सरकार को शाहिन बाग में धरना अड्डा बनाने का करण मान रही हैं। आप का आरोप है कि सरकार शाहिन बाग के प्रदर्शनकारियों से बात नहीं करना चाहती। 

इसे भी पढ़ें: महिलाओं के सम्मान की रक्षा के लिए भाजपा को वोट दें: स्मृति ईरानी

सीएए-एनआरसी के विरोध कर कहे शाहिन बाग के प्रदर्शनकारियों का प्रदर्शन अब पूरी तरह से सियासत का अड्डा बन गया है। अमित शाह के बाद भाजपा के मंत्र4 भी शाहिन बाग को लेकर बयानबीजा करने लगे हैं। पहले शाहिन बाग को दूसरा पाकिस्तान कहा जा रहा था अब बीजेपी के नेता ने शाहिन बाग की तुलना ISIS के गढ़ से कर दी हैं। बीजेपी के सहप्रभारी तरुण चुघ ने जुबान पर बिना लगाम लगाए शाहिन बाग पर विवादित दे दिया। तरुण चुघ ने ट्वीट किया है, ‘’हम दिल्ली को सीरिया नहीं बनने देंगे और उन्हें (शाहीन बाग के निवासी) यहां आईएसआईएस जैसा मॉड्यूल चलाने की अनुमति नहीं देंगे, जहां महिलाओं और बच्चों का इस्तेमाल किया जाता है। वे मुख्य मार्ग को बंद करके दिल्ली के लोगों के मन में भय पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। हम ऐसा नहीं होने देंगे।

इसे भी पढ़ें: नफरत के सहारे पार्टी दिल्ली में सत्ता में नहीं आना चाहती: राजनाथ

बीजेपी के सहप्रभारी तरुण चुघ ने आगे लिखा कि- #DeshKeGaddaronKoGoliMaaroSaalonKo गलत नहीं है। भारत की अखंडता को किसी को भी तोड़ने नहीं देंगे है। शाहीन बाग के मतलब शैतान बाग है। जैसे ISIS ने महिलाओं,बच्चों का इस्तेमाल किया है ये भी उसी मॉड्यूल को अपना रहे हैं।भारत में हाफ़िज़ सईद के विचारों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 

वहीं सीएए- एनआरसी का विरोध कर रहे शाहिन बाग में प्रदर्शन पर बैठे लोगों का कहना हैं कि जबतक सरकार सीएए-एनआरसी वापस नहीं लेती तबतक प्रगर्शन जारी रहेगा। 47 दिनों से चल रहे प्रदर्शन के कारण लोगों का काफी परेशान हो रही हैं। रास्ते में लंबा जाम लगता हैं, अस्पताल जाने वाले मरीजों को भी काफी दिक्कत का समना करना पड़ रहा हैं। हाल ही में मीडिया जब शाहिन बाग कवरेज करने के लिए गयी तो प्रदर्शनकारियों ने रिपोर्टर के साथ मारपीट भी की। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।