ममता ने BJP पर लगाया आरोप, कहा- मुफ्त राशन का वादा झूठा, वह इसे कभी नहीं करेगी पूरा

mamta benerjee
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा को ‘‘बाहरी लोगों की पार्टी’’ बताया और आरोप लगाया कि वह ‘‘आतंक पैदा करने के लिए राज्य में गुंडों को ला रही है।’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘भाजपा ने मुफ्त राशन देने का झूठा वादा किया है जो वह कभी पूरा नहीं करने वाली।

कोतुलपुर (पश्चिम बंगाल)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को भाजपा पर आरोप लगाया कि वह विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में मुफ्त राशन की आपूर्ति का झूठा वादा कर रही है जिसे वह ‘‘कभी पूरा नहीं करेगी’’। बांकुड़ा जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने भाजपा को ‘‘बाहरी लोगों की पार्टी’’ बताया और आरोप लगाया कि वह ‘‘आतंक पैदा करने के लिए राज्य में गुंडों को ला रही है।’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘भाजपा ने मुफ्त राशन देने का झूठा वादा किया है जो वह कभी पूरा नहीं करने वाली। भाजपा के गुंडे आपके घर आकर अपनी पार्टी के लिए वोट मांगेंगे। ये लोग यदि आपको धमकाते हैं तो उन्हें खदेड़ने के लिए अपने घरों के बरतन हाथों में लेकर तैयार रहें।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा महिलाओं के लिए आदेश जारी कर रही है कि उन्हें क्या पहनना चाहिए, क्या खाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: परमबीर सिंह के पत्र से महाराष्ट्र के गृह मंत्रालय की छवि को पहुंचा नुकसान: शिवसेना

बनर्जी ने कहा, ‘‘वे आपको यह सोचने पर मजबूर करेंगे कि नरेंद्र मोदी बीआर आंबेडकर से बड़े हैं।’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘आपने देखा, कैसे गुजरात में एक क्रिकेट स्टेडियम का नाम मोदी के नाम पर रख दिया गया? एक दिन वे देश का भी नाम बदलकर रख देंगे, वे सार्वजनिक उपक्रमों को निजी हाथों में दे रहे हैं।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और वाम दलों की भाजपा के साथ मिलीभगत है। उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं विपक्ष में थी तो माकपा के गुंडों ने कोतुलपुर, चोमकैताला, जैरामबाती इलाकों में आतंक फैलाया। उन्होंने मुझ पर हमला किया और अब वे भाजपा के साथ हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़