भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा ने कहा --हिमाचल पहला ऐसा राज्य बन गया है जिसके 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले हर नागरिक को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष  नड्डा ने कहा --हिमाचल  पहला ऐसा राज्य बन गया है जिसके 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले हर नागरिक को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है

हिमाचल प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है जिसके 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले हर नागरिक को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है । मैं गौरवान्वित करने वाली इस उपलब्धि के लिए हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर , स्वास्थ्य मंत्री राजीव सैजल एवं उनकी पूरी टीम को बधाई देता हूँ । मैं हिमाचल की महान जनता को भी नमन करता हूँ

शिमला, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में कोविड -19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में भारत ने लगातार महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल कर रहा है । पूरी दुनिया में अपने नागरिकों को वैक्सीनेट करने के मामले में भारत पहले स्थान पर है जहां सोमवार तक 200 से भी कम दिनों में वैक्सीनेशन का कुल आंकड़ा 64 करोड़ के पार पहुँच गया है।

 

 

उन्होंने कहा इस साल दिसंबर तक 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीके लगाने के लक्ष्य की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है । माननीय प्रधानमंत्री मोदी का सबको वैक्सीन , मुफ्त वैक्सीन का दृढ़ संकल्प रंग ला रहा है । माननीय प्रधानमंत्री के दिशानिर्देशन में देश भर में तेज गति से वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है ।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश सहित उत्तरी भारत में आज गुग्गा नवमी मनाई जा रही है

हिमाचल प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है जिसके 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले हर नागरिक को कोरोना वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगाई जा चुकी है । 

मैं गौरवान्वित करने वाली इस उपलब्धि के लिए हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर , स्वास्थ्य मंत्री राजीव सैजल एवं उनकी पूरी टीम को बधाई देता हूँ । मैं हिमाचल की महान जनता को भी नमन करता हूँ जिन्होंने कोरोना को हराने की इस निर्णायक लड़ाई में आगे बढ़ कर अपनी भूमिका निभाई है और दुनिया को संदेश दिया है कि सहयोग से हर लक्ष्य को मुमकिन बनाया जा सकता है । आदरणीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व और उनके मार्गदर्शन में भारत ने दुनिया को कोरोना पर जीत का रास्ता दिखाया है ।

इसे भी पढ़ें: सांसद किशन कपूर ने केंद्र से सामरिक रूप से महत्वपूर्ण पठानकोट -चंबा लेह सड़क के निर्माण को भारतमाला परियोजना के अंतर्गत स्वीकृत करने का अनुरोध किया

उन्होंने कहा तीन दिन पहले ही शुक्रवार , 27 अगस्त को पहली बार एक दिन में एक करोड़ से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगा कर भारत ने इतिहास रच दिया है । अभी तक किसी भी देश ने एक दिन में इतने टीके नहीं लगाए हैं । हम एक ही दिन में स्विट्जरलैंड , स्वीडन , ऑस्ट्रिया , इजराइल , डेनमार्क , न्यूजीलैंड जैसे देशों और स्कैंडिनेवियाई देशों का टीकाकरण कर सकते हैं । एक ही दिन में कोविड टीकों की एक करोड़ खुराक देना भारतीय स्वास्थ्य प्रणाली के लिए गर्व की बात है । देश में 63 हजार टीकाकरण केंद्रों के साथ आज हम कोरोना रोधी वैक्सीन की एक करोड़ से अधिक खुराक देने में सक्षम हैं । इस मुकाम को हासिल करने के लिए मैं देश भर के सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स , नर्स , डॉक्टर और हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स के साथ - साथ इसके प्रबंधन और प्रशासन से जुड़े लोगों को मैं हार्दिक बधाई देता हूँ । मैं देश की महान जनता का भी अभिनंदन करता हूँ जिनके महती सहयोग से हमारा यह अभियान लगातार नई ऊँचाइयाँ हासिल कर रहा है । प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार पूरे देश में कोविड -19 रोधी टीकाकरण की गति को तेज करने और हर नागरिक को वैक्सीनेट करने के लिए प्रतिबद्ध है । 

इसे भी पढ़ें: 4 करोड़ से नागणी में निर्मित होगी काऊ सेंचुरी -- विधान सभा अध्यक्ष, विपिन सिंह परमार

उन्होंने कहा हमने अमेरिका द्वारा किये गए वैक्सीनेशन का डेढ़ गुना टीकाकरण अब तक कर लिया है । दुनिया के कई देशों की कुल आबादी से अभी अधिक वैक्सीनेशन भारत में हो चुका है । ये आंकड़े ' न्यू इंडिया ' की दृढ़ इच्छाशक्ति और क्षमता को दर्शाते हैं । एक दूरद्रष्टा , कर्मठ और परिश्रमी नेतृत्व के मार्गदर्शन में एक देश किस तरह दुनिया को कोरोना के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का रास्ता दिखा सकता है , यह उदाहरण आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत ने स्थापित कर दिखाया है । टीकों की अनुमान से अधिक आपूर्ति हो रही है और राज्यों के पास भी वैक्सीन के पर्याप्त स्टॉक मौजूद हैं । हमें विश्वास है कि वैक्सीन की बढ़ी सप्लाई से हम इस साल के अंत तक देश के सभी नागरिकों को वैक्सीनेट करने में कामयाब होंगे ।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।